Thursday, April 16

क्या आपका भी ब्लॉगर प्रोफाइल व्यू काउंट नहीं बढ़ रहा है ?

जब भी ब्लॉगर पर किसी चिट्ठाकार का पूरा प्रोफाइल खोला जाता है तो वहां प्रोफाइल व्यूज दिखाए जाने की व्यवस्था है। यह आंकड़ा बताता है कि संबंधित प्रोफाइल का पेज इंटरनेट पर अब तक कितनी बार खोला जा चुका है? पिछले हफ्ते तक यह बखूबी काम कर रहा था, लेकिन अचानक कई साथियों ने शिकायत दर्ज कराई कि उनका प्रोफाइल व्यू का आंकड़ा एक ही अंक पर आकर अटक गया है।





अभी-अभी ताऊजी ने सूचना दी कि कल तक उनके प्रोफाइल व्यूज का आंकड़ा 5000 पर अटका था और आज यह आंकड़ा 5100 पहुंच गया है। इस असमंजस की स्थिति का कारण जब ब्लॉगर टीम से जाना गया तो पता चला कि ब्लॉगर पर यह बदलाव पिछले हफ्ते ही किया गया है। यह बदलाव इसलिए करना पड़ा क्योंकि कुछ ब्लॉगर प्रोफाइलों पर इतने हिट एक साथ होने लगे कि वे ब्लॉगर टीम के लिए सिरदर्द बन गए। वहीं कुछ ब्लॉगर साथियों ने अपने व्यूज आंकड़े को अनैतिक तरीके से बढ़ाने के लिए स्वचलित स्क्रिप्ट्स का भी इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।

इसी वजह से ब्लॉगर टीम ने फैसला किया कि अब यह आंकड़ा सटीक न होकर अनुमानित होगा। यानी हर क्लिक पर प्रोफाइल व्यूज का आंकड़ा बढ़ता हुआ नहीं दिखाई देगा। कुछ दिन में यह आंकड़ा उस अनुपात में खुद-ब-खुद ही बढ़ जाएगा। देखिए इस सिलसिले में जारी की गई ब्लॉगर टीम की मूल सूचना-

Hey folks,

So many of you have noticed that profile counts have not been updating
as they have in the past, and we thought we'd step in and let you know
exactly what is going on here and why this change has been put in
place.

Basically, having completely accurate counts caused a lot of problems
for profile pages that experienced high traffic - at several times in
the past few months this has led to difficulties and slowness for the
entire service. These problems were amplified even more by a number of
users who abused the count by running automated scripts trying to bump
up their counts.

Because of this, we've switched to using an estimated count of profile
views; while it's less accurate we believe that keeping the service
running and responsive has to be our first priority. We'll change the
language on the profile pages to reflect this - thanks for your
patience and understanding.

Y'all should notice these count views beginning to update themselves
shortly. Please let us know though if after a few more days, the
counts continue to remain unchanged.

-Gatsby
The Blogger Team


अब एक अच्छी सूचना-

चिट्ठाजगत नहीं दिखाएगा ई-मेल पते


दो दिन पहले रचना जी की सूचना के आधार पर हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने जानकारी दी थी कि चिट्ठाजगत और ब्लॉगवाणी अपने यहां दिखाई जाने वाली कमेंट्स फीड में टिप्पणीकारों के ई-मेल पते भी दिखा रहे हैं। हालांकि यहां ई-मेल पते उन्हीं टिप्पणीकारों के दिखाए जा रहे थे, जिन्होंने अपने पते को प्रोफाइल में सार्वजनिक किए हों। लेकिन फिर भी ई-मेल पतों को यूं सार्वजनिक मंच पर प्रदर्शित होते देख कुछ लोग परेशान जरूर हुए थे।

अब चिट्ठाजगत ने हिन्दी ब्लॉग टिप्स की खबर पर स्व-संज्ञान लेते हुए अपने तंत्र में बदलाव कर ई-मेल पतों का सार्वजनिक प्रदर्शन रोक दिया है। देखिए चिट्ठाजगत सेवा दल की सूचना जो इस पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में दी गई है-


इस त्वरित कार्रवाई के लिए धन्यवाद चिट्ठाजगत..

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

24 comments:

  1. बहुत धन्यवाद आशीष जी, इस बारे मे स्थिति स्पष्ट करने के लिये, हमको लगा था कि यह कोई टेकनिकल खराबी है.

    रामराम.

    ReplyDelete
  2. jankari ke liye shukriya ashish ji...
    aap kitni madad karte hain logo ki..
    god bless you
    meet

    ReplyDelete
  3. धन्यवाद इस जानकारी के लिए

    ReplyDelete
  4. आशीष खण्डेलवाल जी!
    जानकारी देने के लिए, धन्यवाद।
    नई-नई खोज करते रहें।
    ब्लागर्स की शुभकामनाएँ आपके साथ हैं।

    ReplyDelete
  5. मेरे प्रोफाल व्यू का आकड़ा भी ठहर गया है । अब समझ में आया है क्यों ?

    और चिट्ठाजगत ने आपकी पोस्ट का संज्ञान लिया, उन्हें धन्यवाद ।

    इस काम की जानकारी के लिये धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  6. कभी जानने की कोशिश नहीं की....इन सूच्नायो को...आप से जानकारी मिली तो लगा ज़माना कहाँ पहुँच गया है इस कम्पूटर के सहारे ..

    ReplyDelete
  7. हाँ आशीष जी, मेरा आंकडा भी कल से 1300 पर ही अटका हुआ है, अब समझ में आया कि क्या माजरा है...

    ReplyDelete
  8. जानकारी देने के लिए, धन्यवाद।

    ReplyDelete
  9. जानकारी के लिए धन्यवाद ,
    मेरे ब्लॉग में भी सबसे ऊपरी पट्टी यानी नवबार सही नहीं आ रहा , शायद जल्द ठीक हो जाये .

    ReplyDelete
  10. अच्छा !! मैंने तो कभी नोटिस ही नहीं किया था.... धन्यवाद इस जानकारी के लिए

    ReplyDelete
  11. ये अद्‍भुत जानकारी थी...मैं तो ऐसे ही हैरान हो रहा था

    ReplyDelete
  12. कुछ हफ्ते पहले किसी ने खबर छापी थी कि उड़न तश्तरी जी के प्रोफाइल को पैंतीस हजार बार देखा गया है। तो दनादन सबने अपने-अपने प्रोफाइल देखने शुरु किये होंगे। बस गूगल बाबा तभी टैं बोल गये!

    रही बात स्वचालित स्क्रिप्ट से प्रोफाइल काउंट बढ़ाने की, तो मैंने चार साल पहले किसी के लिये ऐसी स्क्रिप्ट बनायी थी। बेचारे का गूगल अकाउंट ही बंद कर दिया गया था, और वह अकाउंट कइ महीने बाद जाकर खुला था! तो गोरखधंधे से दूर रहना चाहिये, और प्रोफाइल काउंट को लेखों की गुणवत्ता के आधार पर बढ़ने देना चाहिये न कि स्वचालित स्क्रिप्ट द्वारा।

    ReplyDelete
  13. मेरा आंकडा भी पिछले सप्‍ताह नहीं बढा था ... पर इस सप्‍ताह बढ गया है ... जानकारी के लिए शुक्रिया।

    ReplyDelete
  14. धन्यवाद इस जानकारी के लिए

    regards

    ReplyDelete
  15. ://sunilkumarsonubsa75.blogspot.com/

    ReplyDelete
  16. ये गूगल वाले न जाने कौन कौन से प्रयोग करते रहते हैं।
    ----------
    जादू की छड़ी चाहिए?
    नाज्का रेखाएँ कौन की बला हैं?

    ReplyDelete
  17. धन्यवाद इस जानकारी के लिए....!

    ReplyDelete
  18. jaankari ke liye dhanyawad... :-)

    comment box mein "Koi Web Link" kaise add karte hain? please bataiyega... maan lijiye jahan main e 'koi web link' likha wahan mujhe apne blog ka link lagana ho toh kaise lagega?

    dhanyawad,
    shubhAM mangla
    http://shubhammangla.blogspot.com/

    ReplyDelete
  19. मेरे blog पर sine इन का sanket dikhai नहीं दे रहा, आपने jaankaari तो दी यह ठीक हो jayega मगर कब तक होगा? में kease अपनी कोई rachna post karu??????क्या कोई doosari tarkeeb भी हे sine इन करने की???

    ReplyDelete
  20. हमने तो कभी इस ओर ध्यान ही नही दिया ।

    ReplyDelete
  21. बहुत अच्छी जानकारी. आपको बहुत-बहुत धन्यवाद....

    ReplyDelete
  22. जानकारी के लिए धन्यवाद् .....मै कुछ समझ नहीं पा रहा tha ..की यह हो क्या रहा ...kabhi हमारे दरवाजे पर भी ......स्वागत है आपका ..

    ReplyDelete
  23. हिंदी स्टोर अपने ब्लॉग पर कैसे लगाये ...

    ReplyDelete