Monday, February 2

कमेंट बॉक्स के ऊपर मनचाहा संदेश


कई चिट्ठों पर टिप्पणी करते वक्त आपने देखा होगा कि कमेंट बक्से के ठीक ऊपर एक संदेश लिखा होता है, जिसमें ब्लॉग का लेखक अपने पाठकों से मनचाही अपील कर सकता है या उन्हें अग्रिम धन्यवाद ज्ञापित कर सकता है। रवि रतलामी जी और रंजू भाटिया जी जैसे वरिष्ठ आदरणीय ब्लॉगर ऐसे संदेशों का इस्तेमाल करते हैं। आप भी अपने ब्लॉग पर ऐसा संदेश चुटकियों में लगा सकते हैं।



आइए जानते हैं कमेंट बक्से के ऊपर मनचाहा संदेश लगाने का तरीका-

1. अपने ब्लॉग के डैशबोर्ड पर जाइए।

2. Settings पर क्लिक कीजिए।

3. Comments पर क्लिक कीजिए।



4. पेज को थोड़ा स्क्रॉल कीजिए और Comment Form Message के बक्से तक जाइए।

5. इस बक्से में अपना मनचाहा संदेश लिख लीजिए (या पेस्ट कर लीजिए)।



6. परिवर्तन को सेव कर दीजिए।

अब आपके कमेंट बक्से के ऊपर आपका मनचाहा संदेश दिखने लगेगा।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

10 comments:

  1. आप हमेशा ही उपयोगी जानकारी उपलब्ध कराते हैं...इस सदाशयता हेतु बहुत बहुत आभार.

    ReplyDelete
  2. maine to fatafat kar bhi liya bahot bahot aabhar aapka ...

    arsh

    ReplyDelete
  3. aap ka dhanyabaad kitna achcha kaam ha ye aap ka

    main aap ka prsansak hun aur aasha karata hun ki

    aap isee tarah se logo tak gayan pahuchayenge

    aur bhai se anurodh hai ki

    upar logo aur

    * मुख्यपृष्ठ
    * परिचय
    * मीडिया चर्चा
    * लेख संग्रह
    * संपर्क करें kis prkaar krate hai

    aapka logo in sqre is shon in url add bar how it posible

    and hope I found my quries soon

    thanks
    your ambrish

    ReplyDelete
  4. घणी सुथरी जानकारी सै भाई. इब्बी करकै देखते हैं. पर ना जमैगा त वापस डिफ़ाल्ट सेटिंग भी हो सकैगी ना?

    घणी रामराम.

    ReplyDelete
  5. यह तो हमें पता नही था। शुक्रिया।

    ReplyDelete
  6. उपयोगी प्रविष्टियों की श्रृंखला की एक और कड़ी के लिये धन्यवाद.

    ReplyDelete
  7. २०१ प्रशंसकों की सम्मानित संख्या के लिये बधाई . दिन रात यह कारवां बढ़ता जाय, यही शुभाकांक्षा है.

    ReplyDelete
  8. माननीय खण्डेलवाल जी
    आपके ब्लाग के सहयोग के माध्यम से मैंने भी विगत माह अपना ब्लाग शुरू किया है। यह ब्लाग पत्रिकाओं की समीक्षा का हैं। मैं देश भ र में प्रसिद्ध पत्रिका कथा चक्र का संपादक हूं। आपके कुश ल मागर्दशन के लिए आपका आभारी हूं। कृपया मेरे ब्लाग पर आकर बताएं की इसमें क्या क्या कमी है। आपकी सलाह मेरे जैसे नव ब्लागर के लिए दिशा निर्देश होगी।
    अखिलेश शुक्ल
    संपादक कथा चक्र
    http://katha-chakra.blogspot.com

    ReplyDelete
  9. thanks,maine abhi dekha aur apne blog par dal liya.
    jankari ke liye shukriya.

    ReplyDelete
  10. jaankari achchhi lagi.shukriya

    ReplyDelete