Wednesday, December 17

अंग्रेजी ब्लॉगिंग में इनाम बंट रहे हैं.. कब फिरेंगे हिन्दी जगत के दिन?


इसमें कोई दोराय नहीं कि हिन्दी ब्लॉगिंग में तेजी से विकास हो रहा है। ब्लॉगर और पाठकों की दिन-ब-दिन बढ़ती संख्या इसका अच्छा प्रमाण है। फिर भी आज कोई भी हिन्दी ब्लॉगर प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने की नहीं सोच सकता। शायद इस बात पर आप भी मुझसे सहमत होंगे। कारण साफ है कि हिन्दी ब्लॉगिंग से कमाई फिलहाल न के बराबर ही है। गूगल का एडसेंस कार्यक्रम भी हिन्दी भाषा से बेरुखी बनाए है।

अंग्रेजी ब्लॉगिंग की बात करें तो कई प्रतिष्ठित भारतीय ब्लॉगर ऐसे हैं जो अपने ब्लॉग से अच्छा पैसा कमा रहे हैं। तकनीकी लेखकों में सबसे प्रमुख है अमित अग्रवाल जी, जो डिजिटल इंस्पिरेशन नामक ब्लॉग संचालित करते हैं। इस ब्लॉग की सफलता का आलम यह है कि इसे हर महीने बीस लाख विजिट मिलते हैं और 33000 से ज्यादा पाठक इसे फीड रीडर या ई-मेल पर पढ़ते हैं। यह ब्लॉग इतना धनवान है कि इसमें सुधार के लिए सुझाव के बदले यह हजारों के इनाम बांट रहा है और सबसे बड़ी बात एचपी जैसी कंपनियां इसकी प्रायोजक हैं।


क्या कहा, आप भी इनाम जीतना चाहते हैं? तो जीतिए। आपको बस यह एक आसान सा फॉर्म भरना है। अगर आप भाग्यशाली हुए तो डिजिटल इंस्पिरेशन आपको कंप्यूटर, प्रिंटर और सॉफ्टवेयर समेत कई पुरस्कार दे सकता है। पर याद रखें इस कॉन्टेस्ट में शामिल होने की अंतिम तारीख 20 दिसंबर, 2008 है और ज्यादा जानकारी यहां है।

फोटोग्राफी ऑफ द इयर कॉन्टेस्ट

अगर आप फोटोग्राफी में रुचि रखते हैं तो फोटोग्राफी कॉर्नर वेबसाइट पर आपके लिए शानदार प्रतियोगिता है। भाग लेने के नियम यहां दिए गए हैं। इस प्रतियोगिता में 11500 डॉलर के इनाम जीते जा सकते हैं। शामिल होने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2008 है।

उम्मीद है कि एक दिन हिन्दी ब्लॉग जगत भी समृद्ध होगा।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

10 comments:

  1. thanks for this valuable inforamtion

    ReplyDelete
  2. इन आंकणों को देख कर तो बस हिन्दी चिट्ठाकारी के लिए आह ही निकलती है .
    डिजीटल इंस्पिरेशन ने तो डिप्रेशन दे दिया आशीष जी .

    आपने लिखा है : "उम्मीद है कि एक दिन हिन्दी ब्लॉग जगत भी समृद्ध होगा।"
    आमीन! आमीन ! आमीन !

    ReplyDelete
  3. बहुत अच्छी जानकारी दी है. हिन्दी भी समृद्ध हो रही है. इंतज़ार और अभी, और अभी और अभी....

    ReplyDelete
  4. ashish ji!!!

    yah to bajaar hai!!

    hindi ke market jab banegi to hindi blogging ke amit agrawaal aap hi banege!!!

    aur hindi ka doigital inspiration banega हिन्दी ब्लॉग टिप्स

    ReplyDelete
  5. यह तो बहुत ही अच्छी जानकारी है.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  6. हमारा भी समय आयेगा ..................थोड़ा इंतजार बस.


    राजीव महेश्वरी

    ReplyDelete
  7. यह तो बहुत ही अच्छी जानकारी है.उम्मीदो पर दुनिया टिकी है।
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  8. Sahi kaha apne. hindi hidustaan mai hi jaane ku itni upekshit hai.

    Waise prtiyogitao ke baare mai batane ki liye dhanywaad

    ReplyDelete
  9. हिन्दी चिटठाकारों के लिये आपका चिटठा कुंजी का काम करता है । आप राजस्थान के है तो आप कुंजी शब्द से अनजान नही हो्गें । पढने वाले बच्चे अपनी किताबों कि एक उत्तर पुस्तिका रखते है जिसे कुंजी कहा जाता है। अगर आपके खजाने मे कोइ हिन्दी का व्यकरण व वर्तनी जांचक (hindi grammar & spell chekar) हो तो जरूर बताइयेगा धन्यवाद सहित।

    ReplyDelete
  10. क्या किया जाए, जिससे की हिन्दी भाषा में लिखे हुए ब्लोग्स भी प्रशंसा के पात्र बन सकें?... प्रशंसा का सीधा मतलब अच्छे पारिश्रमिक से है ,यह बात सभी जानतें है!

    ReplyDelete