Monday, June 8

क्यों सहें कमेंट बॉक्स के नखरे?

ब्लॉगर सेवा वाले कुछ ब्लॉग्स पर इम्बेडेड कमेंट बॉक्स लगा दिखाई देता है। वही बक्सा, जिससे पोस्ट के ठीक नीचे ही कमेंट करने की सुविधा मिलती है और टिप्पणी करने के लिए एक और पेज नहीं खोलना पड़ता। हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर भी आपको यही कमेंट बक्सा दिख रहा होगा। ब्लॉगर ने जब से इसे जारी किया है, तभी से इसे लेकर खूब शिकायतें मिल रही हैं। शिकायत यह है कि कमेंट को पब्लिश करने में यह खूब नखरे दिखाता है। अक्सर कहता है कि आपका कमेंट पब्लिश नहीं हो सका। कई बार तो 2-3 प्रयास के बाद भी कमेटं पब्लिश नहीं होता। ऐसे में पाठक खीझ के साथ बिना कमेंट किए ही वहां से चला जाता है।

इस स्थिति में कई साथी कमेंट के लिए पुराना विकल्प लागू करना बेहतर समझते हैं। लेकिन इससे पाठक को यह असुविधा होती है कि कमेंट के लिए पाठक दूसरे पेज पर जाने के लिए मजबूर होता है।

क्या ऐसा नहीं हो सकता कि इम्बेडेड कमेंट (पोस्ट के नीचे ही कमेंट बक्सा) सुविधा का लाभ भी मिल जाए और इसके नखरे दिखाने की स्थित में पाठक को कमेंट के परंपरागत पेज पर भेजने की भी व्यवस्था हो।

ऐसा बिल्कुल हो सकता है और हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने तो इसके लिए पुख्ता प्रबंध किए हैं। प्रबंध यह है कि कमेंट बॉक्स के ठीक ऊपर एक विकल्प दिया गया है, जिस पर क्लिक करते ही पाठक परंपरागत कमेंट पेज (पॉप अप) पर पहुंच जाता है और वहां से अपना कमेंट दे सकता है। यह आपको कमेंट बक्से के ठीक ऊपर टिप्पणी प्रकाशन में कोई परेशानी है तो यहां क्लिक करें.. के रूप में दिखेगा।

क्या आप भी अपने ब्लॉग में यह अतिरिक्त विकल्प लागू करना चाहते हैं?

अगर हां, तो नीचे दी गई सैटिंग्स बदलिए। इस सैटिंग को तभी बदलिए, जब आपने कमेंट के लिए इम्बेडेड बॉक्स का विकल्प अपनाया हो। अगर आप इम्बेडेड बॉक्स चाहते हैं तो इस पोस्ट की मदद लीजिए।

1. डैशबोर्ड पर जाकर संबंधित ब्लॉग के लेआउट पर क्लिक करें।

2. Edit HTML पर क्लिक करें। (एचटीएमएल कोड में परिवर्तन करने से पहले अपनी टेम्पलेट का बैकअप जरूर रखें। इससे आप अपनी मूल टेम्पलेट फिर से पा सकते हैं। टेम्पलेट को डाउनलोड करने का तरीका यहां दिया गया है।)

3. Expand Widget Templates को टिक कर दें।



4. एचटीएमएल कोड में यह खास हिस्सा ढूंढ़ें। इसे ढूंढ़ने के लिए आप CONT+F कुंजियों की मदद भी ले सकते हैं-

<p><data:blogCommentMessage/></p>


5. इसके ठीक नीचे यह खास कोड पेस्ट कर दें। याद रखे इस कोड में एक खास 19 अंकों की संख्या का इस्तेमाल हुआ है। यह दरअसल ब्लॉगआईडी है और इस कोड को लगाने से पहले आपको यह कोड बदलना जरूरी है। यह कोड आपको ब्लॉग का डैशबोर्ड खोलते समय एड्रेस बार में दिखता है। कुछ इस तरह-



अपने ब्लॉग का आईडी आपको इस कोड में बदलना है(ब्लॉग आईडी लाल रंग से दिखाया गया है)-

<a expr:href='&quot;http://www.blogger.com/comment.g?blogID=5897080325661975090&amp;amp;postID=&quot; + data:post.id + &quot;&amp;isPopup=true&quot;' onclick='javascript:window.open(this.href, &quot;bloggerPopup&quot;, &quot;toolbar=0,location=0,statusbar=1,menubar=0,scrollbars=yes,width=400,height=450&quot;); return false;' rel='nofollow'><b>टिप्पणी प्रकाशन में कोई परेशानी है तो यहां क्लिक करें.. </b></a>


इस कोड को पेस्ट करने की विधि इस चित्र में भी दिखाई गई है-



6. परिवर्तन को सेव कर दें।



अब आपने अपने कमेंट बक्से के ऊपर यह संदेश दिखाने और इसकी मदद से पाठक को कमेंट के परंपरागत पेज पर पहुंचाने का फीचर जोड़ लिया है।

किसी भी परेशानी की स्थिति में टिप्पणी के माध्यम से संपर्क किया जा सकता है।

इस तरीके पर पोस्ट लिखने का सुझाव सीमा जी सहित कई साथियों ने काफी समय पहले दिया था, लेकिन समयाभाव के कारण मैं इस पर पोस्ट नहीं लिख सका। अब अभिषेक मिश्रा जी के सुझाव पर यह पोस्ट लिखी गई है। सभी साथियों का आभार..





क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

27 comments:

  1. मुझे भी काफी समय से ये परेशानी हो रही थी... अब इससे कोशिश करता हूँ.. धन्यवाद..

    ReplyDelete
  2. इस पोस्ट का कभी से इंतजार था. आशा है इस 'कमेन्ट बोक्स' की सुविधा का लाभ उठा रहे ब्लौगर बन्धु, नए बदलाव भी कर लेंगे, ताकि उनके टिप्पणीकारों को भी असुविधा न हो. सबसे रोचक बात यह है कि यह टिपण्णी भी मैं दुसरे विकल्प के माध्यम से ही कर पा रहा हूँ, वर्ना 'कमेंट एज' बोक्स तो पुनः ब्लैंक ही था. धन्यवाद आशीष जी.

    ReplyDelete
  3. bahut hi kaam ki post hai..
    aur yah un ke liye bhi upyogi hai --jinke blogs ke pathakon ko comments jyada hone ke karan scroll kar ke page ke bottom tak jane mein problem ho rahi ho--aksar aisa hota hi hai.

    thanks

    ReplyDelete
  4. हमें तो आज तक ऐसी दिक्कत नहीं आई , अच्छा है आपने समस्या आने से पहले समाधान सूझा दिया !

    ReplyDelete
  5. waah ashish bhai..bahut hee kaam kee jaankaaree dee hai..hameshaa kee tarah..ek baat bataaiye...aise comment box mein (jaisa ki aapkaa hai)..google transiliteratin sewa kaam kyun nahin kartee...?

    ReplyDelete
  6. आशीष जी।
    धन्यवाद।
    मुझे इसी जानकारी की तो जरूरत थी।
    आपने तो समस्या हल कर दी।

    ReplyDelete
  7. शुक्रिया आशीष जी ..करके देखती हूँ यदि आसानी से हो पाया तो :)

    ReplyDelete
  8. जे पापड़ वाले की....

    ReplyDelete
  9. आपने तो समस्या का जडमूल से ही समाधान कर दिया.

    रामराम

    ReplyDelete
  10. उपयोगी और जरूरी प्रविष्टि ।आभार ।

    ReplyDelete
  11. मुझे तो पुराने स्टाइल का बक्सा पसन्द है - उसमें ग्रीजमंकी इनेबल करने की सहूलियत है। उस स्टाइल के बक्से को एम्बेड करने का जुगाड़ है क्या?

    ReplyDelete
  12. behtar hai, pathakon ki samasyaon par aapki paini nazar aapke blog ki upyogita badhati hai

    ReplyDelete
  13. अरे आशीष जी, बडे दिनो बाद आये आप... गल्त बात इतनी लम्बी छुट्टी नही मनाते है हमे परेशानी मे छोड गये आप...

    चलिये आपकी इस पोस्ट से एक परेशानी तो हल हुयी बाकी आप से मेल से सम्पर्क कर लेंगे।

    ReplyDelete
  14. इतनी बढ़िया जानकारी के लिए धन्यवाद.

    ReplyDelete
  15. अभी तक तो ऎसी समस्या से सामना नही हुआ पर आगे के लीये ध्यान रहेगा धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  16. ज्ञान वर्धक लेख पढ़वाने के लिए धन्यवाद

    वीनस केसरी

    ReplyDelete
  17. आशीश जी जब मैने बलागिन्ग शुरु की थी मुझे सिर्फ पोस्ट करना और ताईप करना मेरे दामाद ने सिखाया था उसके बाद आपका ब्लोग पढ कर मैने बहुत कुछ सीखा अभी बहुत कुछ समझ भी नहीं आता पर आशा है कि वो भी सीख जाऊँगी आपका बहुत बहुत धन्यवाद और आशिर्वाद

    ReplyDelete
  18. हमेशा की तरह लाजवाब, पिछले काफी दिनों से इस विषय पर ब्लाग देखता देखता निराश हो गया था, आपके साथं सीमा जी और अभिषेक मिश्रा जी का भी शुक्रिया

    ReplyDelete
  19. ye apne bahut achhi jankari di hai...

    ReplyDelete
  20. वाह बहुत बढिया... इस समस्या के तो सभी शिकार हैं.धन्यवाद.

    ReplyDelete
  21. मै रतन सिंह जी और अनील जी की बात से सहमत हू । अगर मुझे परेशानी आती तो आपको परेशान करने वालों मे मेरा नम्बर पहला होता । आपकी यह जानकारी भविष्य मे काम आवेगी । आभार

    ReplyDelete
  22. wah wah!!! lekin ashish ji ab aapka blog bhi IE-8 mein nahin khul raha jaise taau ka nahin khul raha tha...
    kuch keejiye... mujhe dikkat ho rahi hai...
    meet

    ReplyDelete
  23. धन्यवाद आप का यह कोड आज हम ने भी लगा लिया, बहुत खुब काम कर रहा है

    ReplyDelete
  24. Nice Information...
    Thanks !!
    RGV Bhopal

    ReplyDelete