Tuesday, March 3

ब्लॉग पर Notice Board


लालबहादुर ओझा जी का ई-मेल के जरिए पूछा गया सवाल- क्या ब्लॉग पर नोटिस बोर्ड लगाया जा सकता है, जहों सूचनाएं रहें और उन्‍हें समय-परि‍स्थिति‍ के मुताबिक बदला जा सके? उसे साइडबार में कहीं लगाया जा सके।

जवाब- जी हां, ब्लॉगर ब्लॉग पर नोटिस-बोर्ड की तरह का गैजेट साइडबार में जोड़ा जा सकता है और आप उसमें नवीनतम सूचनाएं (दूसरी वेबसाइट्स के लिंक के साथ) वक्त और परिस्थिति के हिसाब से बदल भी सकते हैं।






आइए जानते हैं इसे लगाने का आसान सा तरीका-

1. ब्लॉग के डैशबोर्ड पर जाइए और Layout पर क्लिक कीजिए।

2. साइडबार (बगल पट्टी) में दिख रहे Add a Gadget पर क्लिक कीजिए।



3. यहां से आप List या Text में से कोई भी गैजेट चुन सकते हैं (अगर आप सूचना के रूप में केवल वेबपतों की सूची दिखाना चाहते हैं तो List विकल्प उपयुक्त है और अगर आप नोटिस बोर्ड पर कोई संदेश दिखाना चाहते हैं तो Text विकल्प उपयुक्त है)।


4. List या Text गैजेट में बहुत सी सुविधाएं हैं जैसे- बोल्ड, इटेलिक, कलर टेक्स्ट, हायपरलिंक आदि। आप अपने संदेश को मर्जी के अनुसार कस्टमाइज कर सकते हैं।

5. गैजेट को सेव करने के बाद इसे आप Layout पेज पर जाकर ड्रेग एंड ड्रॉप (माउस से पकड़ो और घसीटो) विधि से मर्जी के मुताबिक स्थान पर लगा सकते हैं।

अब यह सूचना पट्ट ब्लॉग पर आपकी मनचाही जगह पर नजर आने लगेगा। एक साधारण नोटिस बोर्ड का नमूना देखिए-



क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

20 comments:

  1. आभार ज्ञानवर्धन का.

    ReplyDelete
  2. " something good and usefull to know"

    Regards

    ReplyDelete
  3. ये जानकारी अच्‍छी रही। लेकिन मेरे Sidebar में इतनी जगह ही नहीं है कि मैं इसे लगा सकूं। कोई सही वजह होगी तो जरूर लगाउंगा।

    From: http://adbusinesshindi.blogspot.com

    ReplyDelete
  4. जोहार
    अच्छी जानकारी .धन्यवाद

    ReplyDelete
  5. ज्ञानवर्धक जानकारी के लिए आभार ...........

    ReplyDelete
  6. maine kuchh blager atankawadion ke dar se apne comment box me comment ke liye moderation kar diya tha magar mujhe ab ye nahi pata ke agar mere pas koi comment aata hai to use approvel kaise denge..? kripya karke meri samashya ka samaadhaan karen...


    arsh

    ReplyDelete
  7. Bahut hi upyogi jaankari di aapne. Dhanyavad.

    ReplyDelete
  8. dhanywaad sathi, upyogi jankari hai ye to.

    ReplyDelete
  9. काम की जानकारी ! शुक्रिया. क्या वर्डप्रेस के लिये भी कोई सुझाव है?

    सस्नेह -- शास्त्री

    हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है.
    हर महीने कम से कम एक हिन्दी पुस्तक खरीदें !
    मैं और आप नहीं तो क्या विदेशी लोग हिन्दी
    लेखकों को प्रोत्साहन देंगे ??

    http://www.Sarathi.info

    ReplyDelete
  10. आपकी इस सुन्दर और उपयोगी जानकारी का आभार. धन्यवाद.

    ReplyDelete
  11. गुड है जी! वर्डप्रेस में इस सुविधा का क्या हाल है?

    ReplyDelete
  12. बहुत अच्छी जानकारी दी है । शायद इससे टैब लिन्क (मैनू) आदि भी बन सकते है ।

    ReplyDelete
  13. बहुत अच्छी जानकारी दी है

    ReplyDelete
  14. बहुत काम की बात बताई आपने. हमने तो एक पहेली नोटिस बोर्ड ही बना रखा है और ज्यादातर सूचनाएं इसी जरिये देने का काम करते हैं.

    रामराम.

    ReplyDelete
  15. अर्श जी,
    जहां से आपने कमेंट मॉडरेशन ऑन किया था (सैटिंग्स>>कमेंट्स) वहीं पर आपसे एक ई-मेल पता पूछा गया होगा.. अब जब भी नया कमेंट आएगा तो आपको उसी पते पर एक मेल मिलेगी और वहां से आप कमेंट को स्वीकार या अस्वीकार कर सकते हैं।

    अगर आप मेलबॉक्स की मदद नहीं चाहते हैं तो डैशबोर्ड पर आपके ब्लॉग की सूची में आपको नए कमेंट की सूची भी दिखेगी और वहीं पर कमेंट को स्वीकर या अस्वीकार करने का विकल्प भी होगा..

    ReplyDelete
  16. बेहतरीन जानकारी। हम खुश हुए।

    ReplyDelete
  17. भाई ! हम तो कल रात कमेन्ट भेजते वक्त ये सोच रहे थे की अभी तो आप सो रहे होगे ,परन्तु रातो रात आपने अपने ब्लॉग में क्या चमत्कार कर डाला की सुबह उठते ही इसकी फिगर ही बदल गयी ! कल तक तो तिन ही भाग दिखाई दे रही थी लेकिन आज तो ये चार भाग वाली हो गयी , थोडा हमें भी तो अपना भक्तिपूर्ण आशीष प्रदान करें ......आचार्य रंजन , बेगुसराय,बिहार

    ReplyDelete
  18. kafi acchi jankari di hai aapne...dhanyawad

    ReplyDelete