Tuesday, September 9

तीन कॉलम वाली टेम्पलेट- मिनिमा व्हाइट

काफी समय से पाठक तीन कॉलम वाली टेम्पलेट की मांग कर रहे थे। ब्लॉगर की मौजूदा टेम्पलेट्स केवल दो कॉलम की ही हैं और इसमें तीसरे कॉलम की सुविधा हो तो न केवल ब्लॉग सुंदर दिखता है, बल्कि इस पर आप अतिरिक्त विजेट लगा सकते हैं। वैसे तो आपकी मौजूदा टेम्पेलट में तीसरा कॉलम एचटीएमएल कोड को एडिट कर भी जोड़ा जा सकता है, लेकिन यह काम तकनीकी रूप से जटिल हैं। इसलिए हिन्दी ब्लॉगर साथियों के लिए हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने कोड को एडिट कर टेम्पलेट बनाई है। आप दो मिनट से भी कम समय में इस टेम्पलेट को अपने ब्लॉग पर लागू कर सकते हैं। शुरुआत मिनिमा व्हाइट टेम्पलेट से, जो कुछ इस तरह दिखती है-





अब ब्लॉग पर इसे लागू करने का तरीका सीखते हैं-

1. मिनिमा व्हाइट टेम्पलेट को इस लिंक से डाउनलोड कर अपने कम्प्यूटर पर सेव कर लें।

2. अपने ब्लॉग के लेआउट पर क्लिक करें।

3. Edit HTML पर क्लिक करें। (एचटीएमएल कोड में परिवर्तन करने से पहले अपनी टेम्पलेट का बैकअप जरूर रखें। इससे आप अपनी मूल टेम्पलेट फिर से पा सकते हैं। टेम्पलेट को डाउनलोड करने का तरीका यहां दिया गया है।)

4. Upload a template from a file on your hard drive: के साथ लगे Browse पर क्लिक करें।

5. ब्राउज विंडो में मिनिमा व्हाइट टेम्पलेट को उस स्थान से चुनें, जहां आपने इसे अपने कम्प्यूटर की ड्राइव में सेव किया है।

6. Upload पर क्लिक कर इस टेम्पलेट को अपलोड कर लें।



7. अगर आपकी पिछली टेम्पलेट में साइडबार में कोई गजेट या पेज एलिमेंट लगा था, तो यहां आपको उसे डिलीट करना पड़ेगा। (अगर आप उसे फिर से पाना चाहते हैं तो सेव किए बिना फिर से डैशबोर्ड में जाएं और अपने पेज एलिमेंट के कोड को नोटपैड में कॉपी कर लें। यह बाद में नई टेम्पलेट के डाउनलोड होने के बाद फिर से काम आ सकेगा।)





8. अच्छी तरह विचारने के बाद ही पेज एलिमेंट डिलीट कर टेम्पलेट को सेव करने की सोचें। प्रिव्यू देख लें और पसंद आने पर आप इसे सेव कर लें।

अब आप अपने ब्लॉग को तीन कॉलम वाला बना चुके हैं।

तीन कॉलम वाली अन्य टेम्पलेट्स भी हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर जल्द ही हाजिर होंगी। तीन कॉलम वाली राउंडर सिरीज टेम्पलेट के लिए यहां क्लिक करें।
नोट- इंटरनेट पर कई वेबसाइट्स पर ब्लॉगर के लिए तीन कॉलम वाली टेम्पलेट्स मौजूद हैं। लेकिन आपको उन पर भरोसा नहीं करना चाहिए। वे थर्ड पार्टी द्वारा तैयार होती हैं, इसलिए उनमें कई ऑप्शन काम नहीं करते। यह टेम्पलेट ब्लॉगर की मूल मिनिमा व्हाइट टेम्पलेट का विस्तार मात्र है, इसलिए आप इस पर भरोसा कर सकते हैं।

12 comments:

  1. अत्यन्त हार्दिक बधाई, कसम से मुझे दिल से खुशी है की किसी हिन्दी ब्लॉग र ने टेम्पलेट बनाया. मैं भी एक दो टेम्पलेट जल्द ही लाऊँगा.

    ReplyDelete
  2. झकास ........लेकिन मैंने कही पढ़ा था की आप अपने पुराने विजेट भी लगा सकते है ,किसी तरीके से ,उसका कोई आसन तरीका नही है......

    ReplyDelete
  3. अनुरागजी, आप पेज एलिमेंट्स का बैकअप तो ले सकते हैं, लेकिन Link List, Profile, Archives का बैकअप संभव नहीं है। साथ ही कई बार बैकअप लेने के बावजूद वे फिर से ठीक तरह से काम नहीं करते (शायद ब्लॉगर में बग की वजह से)। इसलिए बेहतर है कि आप पेज एलिमेंट्स का बैकअप मैन्यूअली लें।

    राजीवजी, आपकी इस बधाई के लिए धन्यवाद और शुभकामनाएं कि आप नित नई टेम्पलेट्स हिन्दी ब्लॉगर साथियों के लिए विकसित करें।

    ReplyDelete
  4. आशीश भाई,

    धन्यवाद.. हम बहुत दिनों से इन्तजार कर रहे थे, इसका.. नये के लिए तो ठीक है पर पुराने widget डालना..

    खैर मैने
    http://tips-for-new-bloggers.blogspot.com/2007/07/three-columns-rounders-3-template.html

    से अपने दो कालम वाले ब्लोग को ३ कालम मे बदल दिया.. थोडी मेहनत लगी पर काम हो गया.. हाँ पहले एक test ब्लोग बना कर pratise की..

    ReplyDelete
  5. बहुत खूब रंजनजी, पहले मैंने भी सोचा था कि दो कॉलम की टेम्पलेट को तीन कॉलम में बदलने का तरीका मैं हिन्दी ब्लॉगर साथियों को बताऊं। लेकिन लगा कि यह बहुत तकनीकी है और साथी इसकी जटिलताओं में उलझ जाएंगे। इसलिए मैंने खुद कोड तैयार कर इसे दूसरे साथियों के लिए xml फाइल के रूप में जारी किया, जिससे यह काम चुटकियों का हो जाए।

    ReplyDelete
  6. बहुत अच्छे आशीष भाई , वाकई काबिलेतारीफ काम किया है, वैसे पुराने विजेट को पुनः अपनी जगह पर लाने की कोशिश करें तो ब्लॉगर भाइयों का भला होगा. पुनः बधाई स्वीकारें!!!!

    ReplyDelete
  7. क्रपया Todd Dominey द्वारा बनाई "Scribe" नामक टेम्पलेट को भी तीन कॉलम वाला बनाइए. बहुत मेहरबानी होगी.

    ReplyDelete
  8. अशीष जी, मैंने ये टेम्पलेट लगा लिया है सफलतापूरव्क.....लेकिन फँस गया हूँ। जब मैं अपना ब्लौग पेज खोलता हूँ तो उसमें साइन-इन करने का विकल्प नहीं दिख रहा कहीं....क्या करूँ????????
    मदद प्लीज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज

    ReplyDelete
  9. गौतम जी,ऐसा इसलिए है क्योंकि ज्यादातर साथी नवबार (ब्लॉग में सबसे ऊपर वाली पट्टी) को पसंद नहीं करते। आप सीधे ही
    www.blogger.com पर लॉग-इन कर अपने डैशबोर्ड पर पहुंच सकते हैं।

    अगर आप अपने ब्लॉग पर नवबार चाहते ही हैं तो तरीका आपको ई-मेल किया है..

    ReplyDelete
  10. अशीष जी राउंडर्स तीन कालम टेंप्लेट बहुत पसंद आए। अपने तीनों ब्लोगों का टेंप्लेट बदलकर इन्हें रख लिया है। आपको बहुत धन्यवाद।

    लेकिन इन टेंप्लेटों को लेकर थोड़ी दिक्कतें आ रही हैं। यदि आप इनका समाधान कर सकें, तो ये टेंप्लेट और भी उत्तम बन जाएंगे -

    1. टेंप्लेट के कई वाक्यांश अब भी अंग्रेजी में आ रहे हैं, जैसे तारीख, Older post, Subscribe to, Blog Archive में महीनों के नाम, View my complete profile., इत्यादि। यदि ये सब भी हिंदी में आ सके तो बहुत अच्छा रहेगा।

    2. तीनों ही टेंप्लेट में फोंट बहुत छोटा लगता है, और पढ़ने में दिक्कत आती है। मैंने font और font size को x-small से medium करके देखा, पर इससे फोंट बहुत बड़े हो जाते हैं। आदर्श स्थिति small और medium के बीच की होती। पर मुझे समझ में नहीं आ रहा कि font size को इन दोनों के बीच के किसी मान पर कैसे सेट किया जाए। यदि आप यह कर सकें, तो टेंप्लेट बहुत ही उम्दा बन पड़ेगा।

    3. तीसरी कमी यह है कि टेंप्लेट में एक ऊपरी पट्टी होनी चाहिए जिसमें हम कुछ कड़ियां दे सकें, जैसे वेब साइटों में होते हैं। क्या आप इन टेंप्लेटों में यह विशेषता जोड़ सकते हैं?

    इतने अच्छे टेंपल्ट बनाने के लिए आपको बधाई। आपके द्वारा विकसित हिंदी विजेट भी बहुत अच्छे हैं।

    ReplyDelete
  11. इच्छा तो मेरी भी हो रही तीन कोलम वाला ब्लॉग बनाने का पर हिम्मत नहीं जुटा पा रहा हूँ , क्योंकि आप से सलाह लेने में भी काफी वक्त लगता है और उस पर गारंटी भी नजर नहीं आती की आपकी कृपा दृष्टि होगी भी या नहीं और दूसरी बात ये की एडिट एच टी एम् एल के पहले जो बेक अप ली जाती है वो मैं थक गया ,लेकिन हमेशा एक एर्रोर सन्देश आ जाता है , इसलिए भी हतोत्शाहित हो गया हूँ ! यदि कुछ हो सकता है तो मार्गदर्शन करें अन्यथा लगता है की सिर्फ आपका लेख ही पढता रह जाऊँगा ......- आचार्य रंजन , बेगुसराय , बिहार

    ReplyDelete
  12. अच्छा ज्ञान दिया है आपने
    बहुत बहुत धन्यवाद .

    ReplyDelete