Tuesday, September 15

रोमन में लिखी सामग्री देवनागरी में बदलिए

क्या आपको रोमन लिपि में लिखी ऐसी मेल मिलती हैं, जो हिन्दी भाषा में होने के बावजूद बेगानी लगती है। मुझे भी मिलती हैं और मैं उन्हें रोमन में पढ़ने की बजाय देवनागरी में बदलकर पढ़ना पसंद करता हूं। दो दिन पहले मुझे भूतनाथ साहब की यह मेल मिली-

aashish bhaayi ,

Ranchi kee blogar meet men shailesh ji ne ek aise online ya offline software kaa naam bataya tha….jismen isi tarah roman men hindi likhkar vahaan jaakar copy paste karte hi font devnagri men badal jate hain….mujhe isi tarah likne men sahuliyat hoti hai, kripya us site ya software kee detail den naa please….iske liye main aapkaa aabhaari rahungaa…..!!


मैंने इस मेल को क्विलपैड एडिटर की मदद से आसानी से देवनागरी में यूं बदल लिया-

आशीष भाई ,

राँची की ब्लॉगर मीट में शैलेश जी ने एक ऐसे ऑनलाइन या ऑफलाइन सॉफ्टवेर कॅया नाम बताया था….जिसमें इसी तरह रोमन में हिन्दी लिखकर वहाँ जाकर कॉपी पेस्ट करते ही फ़ॉन्ट देवनागरी में बदल जाते हैं….मुझे इसी तरह लिकने में सहूलियत होती है, कृपया उस सीटे या सॉफ्टवेर की डीटेल दें ना प्लीज़….इसके लिए मैं आपका आभारी रहूँगा…..!!


इंटरनेट पर उपलब्ध अन्य औज़ारों के मुकाबले मुझे क्विलपैड का औज़ार ज़्यादा काम का लगता है और इसमें अशुद्धियां दूर करने की आसान सी सुविधा मौजूद है (यहां उदाहरण दिखाने के लिए मैंने एक भी शब्द को शुद्ध नहीं किया है)। इसके अलावा आप यहां से अपनी सामग्री को सेव कर सकते हैं, प्रिंट कर सकते हैं या सीधे ही ई-मेल कर सकते हैं। साथ ही यहां अधिकांश प्रादेशिक भाषाओं के विकल्प भी हैं।

क्विलपैड एडिटर पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।

इसे इस्तेमाल करना बहुत आसान है। ऊपर लिंक पर क्लिक करते ही एक बॉक्स खुलेगा। रोमन में सामग्री को कॉपी कर यहां पेस्ट कर दीजिए। कुछ समय में यह अपने आप देवनागरी में होगी।

इस एडिटर की बस एक कमी मुझे अखरती है और वह यह कि इसमें रोमन सामग्री को पेस्ट करने के बाद कुछ मिनट तक इंतज़ार करना पड़ता है और तभी जाकर सामग्री देवनागरी में बदलती है। आप इसे आजमाइए और मुझे बताइए कि आपको यह कितने काम का लगा।

आप क्विलपैड विजेट को अपने ब्लॉग पर भी लगा सकते हैं।

चलते-चलते

आपको आज ब्लॉगर खोलते ही डैशबोर्ड पर एक सूचना मिली होगी-



हितेश जी ने सुबह मेल कर मेरा ध्यान इस ओर दिलाया। अगर आप इस संदेश के आगे enable now पर क्लिक करेंगे तो इसका अर्थ यह है कि भविष्य में ब्लॉगर की ओर से जारी फीचर अनाउंसमेंट और टिप्स सीधे ही आपको मेल बॉक्स में मिलेंगे। अगर आपको ऐसी मेल नहीं चाहिए तो क्रॉस पर क्लिक कीजिए।

नई जानकारी के साथ फिर मिलेंगे.. हैपी ब्लॉगिंग.




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

29 comments:

  1. क्विलपैड एडिटर निश्चय ही कामयाब है ।
    ब्लॉगर के मैसेज पर हमने तो हाँ कर दी है । हम सबको ईमेल बॉक्स में जानकारी चाहिये ही ।
    संज्ञान दिलाने काआभार ।

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छी जानकारी आभार ।

    ReplyDelete
  3. वाह !! यह तो बड़े काम का है....बहुत बहुत आभार आपका...

    ReplyDelete
  4. बडे काम की जानकारी है. धन्यवाद.

    रामराम.

    ReplyDelete
  5. वाह यह तो बहुत बढ़िया है....
    और वो मेरी समस्या के बारे में बताने के लिए शुक्रिया... आशीष भाई...
    मीत

    ReplyDelete
  6. आज मेरे ब्लॉग पर भी ये संदेश आया था। ये भी अच्छी चीज है। और आपने आज अच्छी जानकारी दी है।

    ReplyDelete
  7. ये हुई न बात .
    मैं वास्तव में ही देवनागरी को रोमन में नहीं ही पढ़ पाता था. इस जानकारी के लिए आभार.

    ReplyDelete
  8. बहुत उम्दा जानकारी...!!!! आभार

    ReplyDelete
  9. आशीष जी,

    मेरा नाम आपके ब्लोग के शीर्ष टिप्पणीकारों में था ११ टिप्पणीयों के साथ उसके बाद मैं ३ या ४ टिप्पणी कर चुका हूं लेकिन मेरा नाम आपकी लिस्ट में नही है????

    इसके बारे में बतायेंगें??????

    ReplyDelete
  10. काशिफ जी, यह विजेट केवल पिछली 500 टिप्पणियों की सूची बनाता है। आपकी पिछली टिप्पणियां शायद अंतिम 500 से परे जा चुकी है.. हैपी ब्लॉगिंग

    ReplyDelete
  11. Bahut hi achha hai..

    एक इसी तरह का टूल हमने भी कभी बनाया या यूँ कहिये modify किया था अपनी ज़रूरतों के मुताबिक

    http://yogesh249.googlepages.com/hindi.html

    ReplyDelete
  12. ग़ज़ब भैया जी अब मज़ा आया, फिर भी एक बात कहेंगे की कोई ऑफ लाईन लिखने का औजार सरल सा हो तो बताइए.
    ये टिप्पणी हम आपके द्वारा बताई जगह से लेकर आ रहे हैं.
    आभार.

    ReplyDelete
  13. बेहतर जानकारी । आभार ।

    ReplyDelete
  14. बढिया सुविधा देती है ये तो !!

    ReplyDelete
  15. मैं तो इस औजकर को बहुत साय से तलाश रहा था।
    उपयोगी जानकारी के लिए,
    आपका बहुत-बहुत आभार।

    ReplyDelete
  16. बहुत अच्छी जानकारी आभार

    regards

    ReplyDelete
  17. आशीष भाई !
    ये कमेन्ट मै क्विलपैड एडिटर पर बदल कर ही लिख रहा हो.
    धन्यवाद बताने के लिए ,

    ReplyDelete
  18. बधाई, हमेशा की तरह लाजवाब, उचित समय अर्थात हिन्‍दी पखवाडे पर उचित पोस्ट,

    ReplyDelete
  19. बधाई, वाह गुरू जी कितनी नई जानकारी प्रस्‍तुत की है दिल बाग बाग कर दिया,

    ReplyDelete
  20. मुझे इससे टाइप करने मे शायद आसानी होगी... धनयावाद

    ReplyDelete
  21. aashish ji is baar tiipadi dene me maine kuchh bilamb kar diya hai. magar kya karu samay nikalna bahut hi muskil hota hai.aapka lekh रोमन में लिखी सामग्री देवनागरी में बदलिए bahut hi achhchha laga. ab aap sabse yahi kahunga ki kya aap bhi---

    क्या आप भी चिठ्ठा जगत की बेवफाई से परेसान है

    ReplyDelete
  22. बहुत पते की बात. मुझे तो बहुत ही पसंद आया ये क्विल पैड एडिटर.

    ReplyDelete
  23. बढ़िया है यह तो शुक्रिया

    ReplyDelete
  24. अच्छी प्रस्तुति....बहुत बहुत बधाई...
    मैनें अपने सभी ब्लागों जैसे ‘मेरी ग़ज़ल’,‘मेरे गीत’ और ‘रोमांटिक रचनाएं’ को एक ही ब्लाग "मेरी ग़ज़लें,मेरे गीत/प्रसन्नवदन चतुर्वेदी"में पिरो दिया है।
    आप का स्वागत है...

    ReplyDelete
  25. यह क्विल्पैड मै यदि अपने डेस्क्टॉप पर रखना चाहूँ तो क्या करना होगा ?

    ReplyDelete
  26. hamesha ki tarah utkrisht jaankari....

    ...maine pehle bhi kaha tha kabhi aur aaj phir keh raha hoon ki aapka blog aik matr aisa blog hoga hoga jismein koi post purana nahi hota....
    ...it's an compliment.
    "Time Proof"

    Happy Blogging.

    :)

    ReplyDelete
  27. शुक्रिया आशिष भाई....दिलचस्प और काफी महत्वपूर्ण जानकारी!

    ReplyDelete
  28. बहुत काम की जानकारी है ,मैने पहले बराहा मे इसका प्रयास किया था लेकिन मजा नही आया अब क्विल पैड को भी आजमा लेते है ।

    ReplyDelete
  29. बहुत अच्छा लगा

    ReplyDelete