Thursday, January 27

ब्लॉग पर संचालित चित्र पहेलियों का जवाब देना कितना आसान!

टिनआई ऐसी रिवर्स इमेज सर्च वेबसाइट है, जो किसी तस्वीर से समानता रखने वाली दूसरी तस्वीरों के लिंक्स को इंटरनेट पर खोजने का काम करती है।
हिन्दी ब्लॉग जगत में पहेलियों का बड़ा योगदान रहा है। कुछ ने इन्हें मनोरंजन का साधन माना है, तो कुछ ने जानकारी बढ़ाने का। कुछ लोगों का मानना है कि पहेलियां ही हैं, जिनके माध्यम से ब्लॉग जगत के साथियों के बीच नियमित वार्तालाप का सिलसिला चलता है। ताऊ डॉट इन पर हर शनिवार को संचालित पहेली को ही लीजिए। किस तरह से दर्जनों ब्लॉगर साथी नियमित जुटते हैं और एक संवाद का सिलसिला चल पड़ता है। अन्य चिट्ठों पर संचालित पहेलियों पर भी ऐसी ही स्थिति देखी जा सकती है।

इन पहेलियों की सफ़लता से विचलित होकर चँद लोग इन दिनों अनैतिक आचरण कर रहे हैं। वे पहेलियों के प्रकाशित होते ही इनके हल अपने ब्लॉग पर प्रकाशित करने लगे हैं, जिससे प्रतिभागियों का मज़ा कम हो रहा है। कई बार संचालकों को ताज्जुब होता है कि किस तरह पहेली के प्रकाशन के चंद मिनट बाद ही इनके जवाब लीक हो जाते हैं। मैं आपको बताना चाहूंगा कि इसकी वजह विषय ज्ञान नहीं, बल्कि तकनीकी चालाकी है।

यह तकनीकी चालाकी बहुत आसान है और इसे तकनीक की बिल्कुल भी समझ नहीं रखने वाला व्यक्ति भी अंजाम दे सकता है। इसके लिए कुछ खास वेबसाइट्स की मदद ली जाती है, जो रिवर्स इमेज तकनीक पर आधारित है। टिनआई नामक ऐसी ही एक वेबसाइट किसी भी तस्वीर से मिलती-जुलती तस्वीर के लिंक को चुटकियों में इंटरनेट से खोज लाती है। यही नहीं, इसी तरह की और भी कई वेबसाइटें इंटरनेट पर मौजूद हैं।

आपको एक उदाहरण से समझाते हैं कि यह वेबसाइट किस तरह काम करती है। यह तस्वीर देखिए-

http://3.bp.blogspot.com/_JhGMXIE9G5U/TAxRpscaXjI/AAAAAAAABao/Qe8UqUBksMQ/s1600/100px-S120e011108.jpg

तस्लीम ब्लॉग पर यह चित्र पहेली 7 जून 2010 को पूछी गई थी। अब आप टिनआई वेबसाइट खोलिए। इसमें नियत जगह पर इमेज का पता भरिए (आप चाहें तो इमेज को कंप्यूटर में सेव कर अपलोड भी कर सकते हैं)। जैसे ही आप सर्च का बटन दबाएंगे, यह आपके सामने ऐसी ही दर्जनों तस्वीरों को उनके वेबलिंक के साथ ला देगा।


आप पहले ही रिजल्ट को देखकर पता लगा लेंगे कि यह चित्र आईएसएस का है और चुटकियों में जवाब देने में सफल हो जाएंगे।

इस वेबसाइट की क्षमता को परखने के लिए मैंने प्रमुख पहेली संचालक ब्लॉग्स को खंगाला और नतीजा कुछ इस तरह रहा-

ताऊ डॉट इन- ताऊ पहेली -106 - 1 रिज़ल्ट


मुझे शिकायत हे- बूझो तो जाने ? - 3 रिज़ल्ट


मुसाफ़िर हूँ यारों - चित्र पहेली १३ - है ना ये अजीबोगरीब पेड़ पौधे ? - 71 रिज़ल्ट

तस्लीम - बहुत सरल सी पहेली है आज तस्लीम पर ...बोले तो हलवा माफिक ! (चित्र पहेली-79) -21 रिजल्ट

दस्तक - चित्र पहेली-6 - 13 रिज़ल्ट

खामोश दिल की सुगबुगाहट - पहचान कौन चित्र पहेली :- 10 - 1 रिज़ल्ट

सरोवर - भारत प्रश्न मंच भाग - 25 ( पहले राउंड का आख़िरी प्रश्न ) - 1 रिज़ल्ट

अमर भारती - "रविवासरीय साप्ताहिक पहेली-14"- 2 रिज़ल्ट

इस पोस्ट का उद्देश्य पहेली बूझने वाले पाठकों को तकनीकी चालाकी सिखाना नहीं है, बल्कि पहेली संचालकों को आगाह करना है कि वे चित्र पहेली पूछते समय गूगल से सीधे ही चित्र उठाकर छापने की प्रथा से बचें। उन्हें या तो अपने निजी संग्रह से तस्वीरों का चयन करना चाहिए अथवा किसी फोटो एडिटिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग करना चाहिए, जिससे वे सीधे ही आसानी से तलाशी न जा सकें और पहेली का रोमांच बरकरार रहे।

टिनआई जैसी वेबसाइट्स के मोज़िला व अन्य ब्राउजर्स के लिए प्लग-इन्स भी उपलब्ध हैं, जो आपको राइट क्लिक पर सीधे ही इमेज खोजने की सुविधा देते हैं।

हैपी ब्लॉगिंग

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!
--

34 comments:

  1. तकनीकी चालाकी
    बहुत आभार -यही तो मैंने कहा और इस प्रवृत्ति का विरोध किया तो कई लोग अनाप शनाप बोलने लगे ..और कुछ लोग तो आज तक मुंह फुलाए बैठे हैं ...
    इसलिए ही तस्लीम पर पहेलियों का प्रकाशन बंद कर दिया गया! यह मानवीय प्रतिभा का पतन है !

    ReplyDelete
  2. आपने बहुत ही काम की जानकारी दी आपका बहुत बहुत धन्यवाद

    ReplyDelete
  3. ज्ञान वर्धन के लिए आभार

    ReplyDelete
  4. पहेलीखोरों के लिए तो यह वरदान है!
    उपचार यह है कि अपना खींचा हुआ फोटो लगाइए!
    तब यह साइट मजबूर हो जाएगी!

    ReplyDelete
  5. बहुत दिनों बाद आए, बहुत बढ़िया जानकारी लाए!

    ReplyDelete
  6. बेहतरीन जानकारी.

    ReplyDelete
  7. इस महत्‍वपूर्ण जानकारी के लिए शुक्रिया। वैसे इससे बचने का रास्‍ता भी मयंक जी ने बता दिया है।

    ---------
    हिन्‍दी के सर्वाधिक पढ़े जाने वाले ब्‍लॉग।

    ReplyDelete
  8. excellent information thank you

    ReplyDelete
  9. हमने तो १० १२ खोजे सबका रिजल्ट जीरो आ रहा है........

    ReplyDelete
  10. सही सलाह दी है ।
    जानकारी पूर्ण लेख । आभार ।

    ReplyDelete
  11. बहुत अच्छा प्रयत्न ।

    ReplyDelete
  12. मै भी कहूँ कि मैं पहेलियाँ क्यों नही बूझ पाती लोग इतनी कठिन पहेलियाँ जल्दी से बूझ लेते हैं आपने सब की पोल खोल दी। धन्यवाद इस उपयोगी जानकारी के लिये।

    ReplyDelete
  13. यह मेरे लिए नई जानकारी रही. आभार.

    ReplyDelete
  14. लाजवाब तरीक़ा ... जवाब ढूंढने का।
    अब कम्प्यूटर पर प्रश्न है तो जवाब भी तो वही ढूंढ देगा ना?
    इससे प्रश्न पूछने वाले को भी मेहनत करनी होगी।

    ReplyDelete
  15. उपयोगी जानकारी के लिये धन्यवाद।

    ReplyDelete
  16. जाट पहेलियों के लिये यह साइट कारगर नहीं है।

    ReplyDelete
  17. आपने मेरी टिप्पणी प्रकाशित नहीं की कोई खास वज़ह ?

    ReplyDelete
  18. महत्वपूर्ण और मेरे साथ ही कई अन्य लोगों के लिए भी नई जानकारी.

    ReplyDelete
  19. @Manish Kumar जी,

    मुझे इससे पहले आपकी कोई टिप्पणी प्राप्त ही नहीं हुई।

    हैपी ब्लॉगिंग

    ReplyDelete
  20. बेहतरीन जानकारी, और हेल्प के लिए आप हमेशा सम्मान से देखे जायेगे, धन्यवाद्

    ReplyDelete
  21. mahatvapurna jankari mili hei .........dhanyavad

    ReplyDelete
  22. हर वो भारतवासी जो भी भ्रष्टाचार से दुखी है, वो देश की आन-बान-शान के लिए समाजसेवी श्री अन्ना हजारे की मांग "जन लोकपाल बिल" का समर्थन करने हेतु 022-61550789 पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे. यह श्री हजारे की लड़ाई नहीं है बल्कि हर उस नागरिक की लड़ाई है जिसने भारत माता की धरती पर जन्म लिया है.पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा"

    ReplyDelete
  23. अच्छे लगे आपके विचार, ओरो के ब्लॉग को follow करके या कमेन्ट देकर उनका होसला बढाए..

    ReplyDelete
  24. भ्रष्टाचारियों के मुंह पर तमाचा, जन लोकपाल बिल पास हुआ हमारा.

    बजा दिया क्रांति बिगुल, दे दी अपनी आहुति अब देश और श्री अन्ना हजारे की जीत पर योगदान करें

    आज बगैर ध्रूमपान और शराब का सेवन करें ही हर घर में खुशियाँ मनाये, अपने-अपने घर में तेल,घी का दीपक जलाकर या एक मोमबती जलाकर जीत का जश्न मनाये. जो भी व्यक्ति समर्थ हो वो कम से कम 11 व्यक्तिओं को भोजन करवाएं या कुछ व्यक्ति एकत्रित होकर देश की जीत में योगदान करने के उद्देश्य से प्रसाद रूपी अन्न का वितरण करें.

    महत्वपूर्ण सूचना:-अब भी समाजसेवी श्री अन्ना हजारे का समर्थन करने हेतु 022-61550789 पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे. पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा" सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना हैं ज़ोर कितना बाजू-ऐ-कातिल में है.

    ReplyDelete
  25. अच्छे है आपके विचार, ओरो के ब्लॉग को follow करके या कमेन्ट देकर उनका होसला बढाए ....

    ReplyDelete
  26. अच्छे है आपके विचार, ओरो के ब्लॉग को follow करके या कमेन्ट देकर उनका होसला बढाए ....

    ReplyDelete
  27. आपका पोस्ट अच्छा लगा | मैंने अभी अभी ब्लॉग को जुआइन किया है | मैंने आपका लेख हुबुहू अपने ब्लॉग पर पोस्ट कर दिया है | उम्मीद है आप अन्यथा नहीं लेंगे | अगर आपको बुरा लगे तो कृपया मुझे ईमेल से सूचित कर दें | धन्यवाद |

    ReplyDelete
  28. वाकई उपयोगी जानकारी है

    ReplyDelete
  29. बहुत बहुत शुक्रिया अच्छी जानकारियां देने के लिए
    मैं ब्लॉगस्पोट पर नया हूँ.
    मेरा ब्लॉग है
    http://bahut-kuch.blogspot.com/

    ReplyDelete
  30. BlogVarta.com पहला हिंदी ब्लोग्गेर्स का मंच है जो ब्लॉग एग्रेगेटर के साथ साथ हिंदी कम्युनिटी वेबसाइट भी है! आज ही सदस्य बनें और अपना ब्लॉग जोड़ें!

    धन्यवाद
    www.blogvarta.com

    ReplyDelete
  31. Interesting & informative blog in Hindi

    ReplyDelete