Thursday, January 8

चलते हुए शब्दों की पट्टी (marquee)

लुधियाना के डी.के.शर्मा"वत्स" जी ने जानना चाहा है कि चलते हुए शब्दों की पट्टी कैसे लगाई जा सकती है। तकनीकी भाषा में इसे मूवींग टेक्स्ट या marquee कहा जाता है और एक आसान से एचटीएमएल कोड का उपयोग कर इसे लगाया जा सकता है। क्या आप भी अपने ब्लॉग पर चलते हुए शब्दों की पट्टी लगाना चाहते हैं?

आप इसके लिए quackit वेबसाइट की मदद ले सकते हैं। जैसे ही आप इस वेबसाइट का यह पेज खोलेंगे, थोड़ा नीचे आपको एक फॉर्म दिखेगा। इस फॉर्म की पूर्ति करने पर आपको आपकी मनचाहे शब्दों की चलती-फिरती पट्टी वाला कोड मिल जाएगा। इस कोड को आप गेजेट (पेज एलिमेंट के रूप में) या पोस्ट के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं। इसी फॉर्म की मदद से तैयार किए गए कुछ उदाहरण देखिए-


हिन्दी ब्लॉग टिप्स



हिन्दी ब्लॉग टिप्स



हिन्दी ब्लॉग टिप्स



हिन्दी ब्लॉग टिप्स

फॉर्म की किसी एंट्री में परेशानी की अवस्था में आप मेरा सहयोग ले सकते हैं। इस विषय पर और जानकारी के लिए यह पोस्ट भी देखी जा सकती है।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

25 comments:

  1. बढ़िया लिंक दिया! धन्यवाद।

    ReplyDelete
  2. जानकारी के लिए आभार।

    ReplyDelete
  3. बढ़िया आसान लिंक दिया यह आपने शुक्रिया

    ReplyDelete
  4. आपने मेरी समस्या समाधान हेतु उपयोगी जानकारी प्रदान की, इसके लिए मैं आपका धन्यवादी हूं, आशा है कि आप भविष्य में भी इसी प्रकार तकनीकी ज्ञान से अवगत कराते रहेंगे

    ReplyDelete
  5. वाह जी वाह!!!

    यह तो मै भी लगाने की सोच रहा था !!

    जान्कारी के लिये आभार!!!

    ReplyDelete
  6. जहाँ तक मुझे याद आता है marquee प्रकार क़ी पोस्ट के बारे में आप पहले भी लिख चुके हैं एक बार नीचे 'फुटर ' पर लिखना दाएँ से बाएँ चलना ,दूसरी बार ,नीचे से ऊपर चलने वाली लेखन के बारे में बता चुके हैं , हाँ फ्रेम बॉर्डर पहली बार है||

    ReplyDelete
  7. जानकारी के लिए आभार.
    आशीष जी ,यह पट्टी बैनर के नीचे पोस्ट के उप्पर दिखायी दे-इस के लिएकोड को कहाँ पेस्ट करें.
    वेब पेज के html कोड में 'हेड' के नीचे लगाने से बैनर के यह ऊपर आती है.
    कृपया सुझाव दें.

    ReplyDelete
  8. आशीष जी आपकी ये साईट हिन्दी टिप्स (मै तो इस को साईट ही कहूगा ) की मै जितनी तारीफ करू कम है. मेरे पास शब्द नही है, बहुत बढ़िया. शुक्रिया.

    ReplyDelete
  9. मैं हर बार यह सोचता हू कि,आप अगली बार क्या धमाका करने वाले है । आपकी हर पोस्ट कि तरह यह भी ज्ञान वर्धक है ।

    ReplyDelete
  10. बहुत बढ़िया, बहुत लोग अब इसे आज़मायेंगे :)

    ReplyDelete
  11. आशीष जी,
    अगर ब्लॉग का नाम तथा बाकि सब कुछ भी हिन्दी में दिखाना हो तो क्या करना होगा. कृपया बताएं मुझे इंतजार रहेगा.

    ReplyDelete
  12. blog follow karne ka liye bahot bahit dhanyawaad aapka... :)

    ReplyDelete
  13. link to mil gaya
    ab gajet se kese judu
    pls. help

    http://fmghosee.blogspot.com

    ReplyDelete
  14. धन्यवाद बहुत दिनों बाद अपने सवाल का जवाब जान पायी।

    ReplyDelete
  15. behtrin jankari...
    use ki hai
    meet

    ReplyDelete
  16. आपके ब्लोग से मेरे ब्लोग को मोडिफाइ करने मे बहुत सहायता मिली
    इस पोस्ट को पढ़्कर मेनेभी स्वागत संदेश लगा दिया ।
    जानकारी के लिए ्धन्यवाद

    ReplyDelete
  17. abhut hi achhi upyogi aur saral yukti hai yeh.........

    ReplyDelete
  18. जिस चीज को मैं लम्बे समये से खोज रहा था, वो मुझे मिल गयी.... आपका बहुत बहुत धन्यवाद.....

    रवि अदलखा, श्रीगंगानगर (राजस्थान)

    ReplyDelete
  19. बहुत शानदार जानकारी है।

    ReplyDelete
  20. quackit वेबसाइट क्लिक करने से कुछ और ही आ रहा है। चलती पट्टी में कुछ देना चाहता था अपने ब्लॉग में हैडर के नीचे। कृपया मदद करें। मेरा ब्लॉग है - www.harmohinderchahal.blogspot.com

    ReplyDelete