Thursday, December 17

क्या आप अपनी सारी टिप्पणियां पढ़ना चाहेंगे?

आज ब्लॉग सर्फ़िंग के दौरान अचानक श्रीश पाठक 'प्रखर' जी की इस पोस्ट पर नज़र पड़ी- मेरी सारी टिप्पणियां इकठ्ठी हो सकती हैं क्या...? पोस्ट पढ़कर पता चला कि विभिन्न चिट्ठों पर की गई टिप्पणियां किसी धरोहर से कम नहीं। उन्हें फ़िर से पढ़ना मतलब पुरानी यादों में गोता लगाना। इसी कोशिश में मैंने एक जुगाड़ का इंतजाम किया और अलग-अलग चिट्ठों पर की गई अपनी अधिकांश टिप्पणियां आसानी से पढ़ीं।

यह जुगाड़ है गूगल सर्च इंजन। अब आप कहेंगे कि गूगल सर्च इंजन पर खोजने लगे तो 56 सौ 60 नतीजे आएंगे और उन्हें पढ़ना मतलब दिमाग का दही करना। जनाब, सर्च इंजन पर खोज करना एक विशिष्ट कला है। इसके कुछ फॉर्मूले हैं। फास्ट और एकुरेट सर्च के लिए इस्तेमाल होने सभी फॉर्मूलों से तो मैं आपको अगली पोस्ट में रूबरू कराऊंगा (अगर आपकी दिलचस्पी हो तो)। यहां मैं बता रहा हूं आपको अपनी सभी टिप्पणियां झट से पाने का तरीका।

1. गूगल सर्च इंजन का होमपेज खोलिए।

2. इसमें अपना वह नाम लिखिए, जो आपके प्रोफाइल में लिखा है। अगर आप अपना नाम देवनागरी में लिखते हैं तो देवनागरी में लिखें और रोमन में लिखते हैं तो रोमन में लिखें। अच्छा होगा अगर आप अपने नाम को ब्लॉग से कॉपी कर यहां सीधे पेस्ट करें।

3. इसके बाद इस नाम के आगे अंग्रेजी में said लिख दें। नाम और said के बीच में एक स्पेस होना चाहिए। मिसाल के तौर पर समीरलाल जी की टिप्पणियां पढ़नी हों तो लिखें Udan Tashtari said

4. अब इसे एक quote (उद्धरण चिन्ह) में बंद कर दें। अब यह आपको ऐसा दिखेगा- "Udan Tashtari said"


5. अब सर्च का बटन दबाइए। खुलने वाले नतीजे आपकी ज़्यादातर टिप्पणियां ले आए हैं। इनकी पहली पंक्ति तो आप इसी पृष्ठ पर पढ़ सकते हैं। अगर किसी कमेंट को पूरा पढ़ना हो तो संबंधित नतीजे पर जाएं और उसे विस्तार से पढ़ लें।



डेमो के तौर पर यहां क्लिक कर आप मेरी टिप्पणियां पढ़ सकते हैं।

6. अगर आप अपनी और भी टिप्पणियां पढ़ना चाहते हैं तो अपने प्रोफाइल नेम के साथ अपनी सर्च टर्म को इस तरह बदलें-

"Udan Tashtari said"

"Udan Tashtari says"

"Udan Tashtari ने कहा"


उम्मीद है आपको टिप्पणियां पढ़ने का यह तरीका पसंद आया होगा।

वैसे टिप्पणियों को पाने का एक तरीका बैकटाइप की मदद लेना भी हो सकता है। लेकिन इसके लिए यह आवश्यक है कि जिस ब्लॉग पर आप टिप्पणी कर रहे हैं, वह यहां रजिस्टर हो। हिन्दी ब्लॉग जगत के विस्तार को देखते हुए यह संभव नहीं लगता।

नोट- ब्लॉगमदद पर पहली बार गया। मुझे प्रयास पसंद आया, लेकिन एक छोटी सी आपत्ति दर्ज कराना चाहता हूं। इस ब्लॉग की एक पोस्ट हिंदी ब्लॉग टिप्स के खजाने से मदद के लिंक - काम की कड़ियाँ दी गई हैं। हिन्दी ब्लॉग टिप्स को इस लायक समझने के लिए धन्यवाद। प्रवीण त्रिवेदी जी का ध्यान दिलाना चाहूंगा कि वे इस पोस्ट के बीच में किसी दूसरे ब्लॉग की फ़ीड़ (काम की टिप्स, उपयोगी जानकारी, ब्लॉग सजाइए ) को यहां से निकालकर उचित स्थान पर लगाएं। वरना पाठक भ्रमित होते हैं कि वे पोस्ट भी हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर उपलब्ध हैं।

हैपी ब्लॉगिंग





क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!
पिछली पोस्ट के हमसफरः हिमांशु जी, ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ जी, Mohammed Umar Kairanvi जी, ताऊ रामपुरिया जी, alka sarwat जी, संजय भास्कर जी, seema gupta जी, रंजन जी, RAJNISH PARIHAR जी, Etips blog se Mukesh जी, वन्दना अवस्थी दुबे जी, विनीता यशस्वी जी,रंजना [रंजू भाटिया] जी, Dr. Mahesh Sinha जी, सुशील कुमार छौक्कर जी, Ratan Singh Shekhawat जी, rahul जी, vinay जी, Mishra Pankaj जी, चंदन कुमार झा जी, मनोज कुमार जी, डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक जी, मीत जी और नरेश सिह राठौङ जी

57 comments:

  1. अच्छी जानकारी

    ReplyDelete
  2. ओह..आशीष जी बेहद आभारी हूँ...धन्यवाद..!
    यह सुंदर और सहज सुझाव आप ही दे सकते थे...!

    ReplyDelete
  3. badhiya jankari..........shukriya.ab sath hi ek cheese aur bataiye ki hum apne blog par jitni bhi tippniyan aayi hain unhein ek baar mein padhna chahein to wo kaise padhenge.

    ReplyDelete
  4. Dhanybaad aashish bahi aapko bahut -bahut badhayi

    ReplyDelete
  5. आशीष जी !
    मुआफी चाहूंगा .....यह आपकी विनम्रता ही है जो इसे आप छोटी आपत्ति के साथ पेश कर रहे हैं |
    आपके ध्यान दिलाने के बाद मैंने ध्यान दिया तो मालूम चला कि पहले मैं सभी तकनीकी ब्लॉग-पोस्ट्स को एक
    में ही पेश करने जा रहा था ..... पर लंबा होने पर ब्लॉग-वार पेश करने का मन बनाया |
    पर अफ़सोस कि आपकी असली एकल पोस्ट के बजाय वह पुराणी संयुक्त पोस्ट एडिट कर के चेंप दी !
    जल्द बाजी में ऐसा करने के बाद आज आपके ध्यान दिलाने के बाद इसको चेक करने पर मालूम चला !

    भूल सुधार कैसे किया जाए ..... इस पर मंथन चल रहा है !!
    जल्दी ही आपको सूचित करूँगा !

    ReplyDelete
  6. hamesha ki tarah adhbut .mujhe kewal ek hi comment dikhaai de rahaaa hai sabhi comments ke liye kayaa karoon?
    anuvaadak button par karsar klik nahi ho rahaa kayaa karoon nishulk salaah prathniya hai

    ReplyDelete
  7. बहुत दिनों से मैं ऐसी जानकारी की तलाश में थी .. जानकारी देने का बहुत बहुत शुक्रिया !!

    ReplyDelete
  8. बहुत ही बढ़िया जानकारी दी आपने
    बहुत बहुत शुक्रिया आपका

    आजकल रोमन से हिंदी कन्वर्ट करने वाला टूल काम नहीं कर रहा है

    ReplyDelete
  9. बहुत आसान (किन्तु अज्ञात) और उपयोगी जानकारी!

    ReplyDelete
  10. वाह वाह आशीष भाई ,
    हम जैसे टिप्पाकारों के लिए तो ये बडी काम की जानकारी है ...अपी पुरानी ्टीपों को पढने मजा ही और आएगा

    ReplyDelete
  11. बहुत बढिया जानकारी आभार!

    ReplyDelete
  12. बहुत ही बढ़िया जानकारी दी आपने

    ReplyDelete
  13. ये तो बहुत ही बढिया जानकारी प्रदान की आपने.....
    धन्यवाद्!!

    ReplyDelete
  14. बहुत अच्छी जानकारी आशीष जी । अभी अपनी टिप्पणीयां गूगल सर्च कर देखते है । आभार

    ReplyDelete
  15. दिलचस्प जुगाड़... बाकी के फुर्मुलों का भी इंतज़ार रहेगा :-)

    ReplyDelete
  16. ये तरीका तो हमें आता है, पर सब सर्च रिजल्ट्स को खोलना पड़ेगा। तब एक एक कर सहेजा जा सकता है। वरना काम आसमान से तारे तोड़ने जैसा है। परिणाम संख्या है 9900

    ReplyDelete
  17. Waah GURU aap to chha gaye...

    ReplyDelete
  18. हमेशा की तरह ये जानकारी भी कारगर है, कृपया ये भी बताएं की क्या अपने ब्लॉग पर PDF फाईल को पोस्ट किया जा सकता है?
    यदि ऐसा है तो बताएं और नहीं है तो इसको करने का कोई हल खोजें.
    धन्यवाद
    कुमारेन्द्र सिंह सेंगर

    ReplyDelete
  19. Udan Tastari ji first time said on my blog... hi hi hi... :D

    ReplyDelete
  20. कमाल की जानकारी।

    ReplyDelete
  21. बड़े काम की जानकारी..हमें तो लिखना भी नहिं पड़ेगा..यहीं से कट पेस्ट कर लेते हैं..हा हा!!

    ReplyDelete
  22. Waah..ham to zaroor padhna chahenge! Hamaere lekhanpe mili tippaniyan bhi ikatthee padhna chahenge!

    ReplyDelete
  23. आशीष जी, इस उम्दा युक्ति के लिये आपका आभार । मैंने तो जब इसे कोट ("") में बन्द किया तो मेरी एक भी टिप्पणी नहीं दिखायी दी, हाँ कोट हटा देने के बाद दिखने लगीं ।

    जानकारी का शुक्रिया ।

    ReplyDelete
  24. hहमेशा की तरह बहुत अच्छी जानकारी। धन्यवाद्

    ReplyDelete
  25. .
    .
    .
    उम्दा और कारगर जानकारी,
    आभार!

    ReplyDelete
  26. @वन्दना जी,

    आप कमेन्ट फीड से अपनी ब्लॉग पर प्राप्त टिप्पणियाँ देख सकते हैं.

    बेहतर तरीके से पढने के लिए आप गूगल रीडर में ब्लॉग कमेंट्स को सबस्क्राइब कर ले. यह आप्शन प्रत्येक पोस्ट के नीचे लिखा होता है वहीँ जहाँ से हम [Post a comment] करते हैं.

    सबस्क्राइब करते समय इसे Combo box option से Google चयन कर Google Reader में सहेज लें. इसके बाद आप कभी भी रीडर में लोगिन कर बायीं पैनेल से सेलेक्ट कर दाहिने विंडो में पढ़ सकते हैं. अधिक संख्या या पेज नेविगेशन आप सेट्टिंग से तय कर सकते हैं.

    ReplyDelete
  27. इस उपयोगी जानकारी के लिये आभार
    फास्ट और एकुरेट सर्च वाली पोस्ट का इंतजार

    प्रणाम स्वीकार करें

    ReplyDelete
  28. मस्त जुगाड!!

    ReplyDelete
  29. बहुत उपयोगी जानकारी हम कभी अवध गए तो अवध वालों को भी दिखाऐंगे, उन्‍हें सुनाऐंगे कि तुम बच्‍चे बहलाना छोडा और अवध की शान के मुताबिक बातें करो, अन्‍यथा खंडेला नगर के लोग हमसे बहुत आगे निकल जाऐंगे

    अवधिया चाचा
    जो कभी अवध न गया

    ReplyDelete
  30. बढ़िया जानकारी दी है यह तो आपने तहे दिल से शुर्किया

    ReplyDelete
  31. बहुरंगी जानकारी के लिए धन्यबाद !!

    !! रामगोपाल विश्वकर्मा !!

    ReplyDelete
  32. waah yeh to bahut badhiya jaankari hai...
    ise abhi aajmaata hoon...
    meet

    ReplyDelete
  33. बहुत अच्छी जानकारी ...आभार ...!!

    ReplyDelete
  34. ye tarkeeb to bahut hi achchhi hai Aashish ji.
    thanks.
    Happy Bloging.

    ReplyDelete
  35. aji janab pehle meri tippaniyon ki sankhya to theek kijiye.........
    aur saath hi hindi mein likha bhi nahi ja rha, jiske karan mahine se uppar ho gya main blog use nahi kar pa rha hun..... meri help kijiye......

    ReplyDelete
  36. वाह भाई, आप नित नई नई बातें कैसे सोच लेते हैं. बहुत सुंदर जानकारी दी है आपने.

    ReplyDelete
  37. upyogi jaankari..kuchh bhuli hui posts/blogs ke pate bhi mil gaye!:) shukriya.

    ReplyDelete
  38. जय भारत,
    आपने अच्छी जानकारी दी, धंन्यवाद

    ReplyDelete
  39. कमाल की जानकारी लाते है जी आप। विशेष सर्च करने की जानकारी का इंतजार रहेगा।

    ReplyDelete
  40. नमस्कार! आपके ब्लॉग के माध्यम से बहुत कुछ सीखा है! नए चिट्ठाकारों के लिए आप द्वारा दी जा रही जानकारी बहुमूल्य है ! मैंने फरबरी 2009 से ब्लोगिंग शुरू की है और अभी सीख ही रहा हूँ ! आपको साधुवाद देना अपना कर्तव्य समझाता हूँ की आपके ब्लॉग के माध्यम से मैं ब्लोगिंग के क्षेत्र में चलना सीख रहा हूँ ! पुन: आपको साधुवाद और अनेकानेक धन्यवाद ! आपको और आपके माध्यम से ब्लोगिंग की बारीकियां सीख रहे चिट्ठाकारों को नव वर्ष की मंगलकामनाएं

    ReplyDelete
  41. अच्छी जानकारी,धन्यवाद। नव वर्ष का अभिनन्दन

    ReplyDelete
  42. aashish bhai aur sabhi blogger sathiyo ko new year 2010 ki subhkamnayen,hamare blog ne aapko the year-2009 ke liye chuna hai kripya svikar karen.

    ReplyDelete
  43. aashish bhai aur sabhi blogger sathiyo ko new year 2010 ki subhkamnayen,hamare blog ne aapko the year-2009 ke liye chuna hai kripya svikar karen.


    @Etips-Blog
    http://www.etips-blog.blogspot.com

    ReplyDelete
  44. Ashish ji aap ko aur aap ke parivaar mein sabhi ko Naye saal ki dher sari Shubhkamnayen.

    ReplyDelete
  45. आपकी पोस्टों के माध्यम से ब्लॉग संबंधी अनेक तकनीकी जानकारियों के द्वार खुलते हैं. धन्यवाद.

    ReplyDelete
  46. वाह अच्छा तरीका है.. देखता हूँ आज ही..

    ReplyDelete
  47. आशीष जी, कई दिन से सोच रहा था आपको धन्‍यवाद कहना है, आप बराबर ब्‍लागवाणी पर नजर रखते हैं इस लिए खबर तो होगी ही मैं किस लिए धन्‍यवाद कह रहा हूं, हैप्‍पी

    ReplyDelete
  48. मैं अपनी टिप्‍पणियों के लिए परेशान थी और मैं उन्‍हें एकत्र करना चाहती थी। आपने रास्‍ता बता दिया बड़ा धर्म का काम किया आभार। ऐसी ही नवीन जानकारियां देते रहिए। आपकी फोलोवर बन जाती हूँ।

    ReplyDelete
  49. बहुत अच्छा है , धन्यवाद

    ReplyDelete
  50. Can you retrieve bck even those comments which were not published by the blog owners and were rejected in moderation?

    ReplyDelete
  51. @ Arvind Ji,

    For those comments no chance at all...

    Happy Blogging

    ReplyDelete
  52. is achhi jaankari ke liye dhanyawaad,..........

    ReplyDelete