बधाई दीजिए, हिन्दी ब्लॉग टिप्स आस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर इतरा रहा है.. - हिन्दी ब्लॉग टिप्स

Breaking

Saturday, June 27

बधाई दीजिए, हिन्दी ब्लॉग टिप्स आस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर इतरा रहा है..

कॉपीस्केप वेबसाइट से पता लगाइए कि आपके ब्लॉग से चुराई गई सामग्री इंटरनेट पर कहां-कहां मौजूद है..
कौन कहता है कि ऑस्ट्रेलिया में हम हिंदुस्तानियों के खिलाफ़ नस्लभेद हो रहा है? हिन्दी ब्लॉग टिप्स को तो वहां ऐसा दर्जा दिया जा रहा है, जैसा कभी हिंदुस्तान में भी नहीं मिला। वहां के एक विश्वविद्यालय ने हिन्दी ब्लॉग टिप्स को अपनी ई-लर्निंग स्टाफ लिस्ट में शुमार बताया है। यहां इस ब्लॉग का केवल नाम ही नहीं है, बल्कि पूरा का पूरा ब्लॉग फ्रेम के रूप में मौजूद है। यह यूनिवर्सिटी है- आस्ट्रेलियन कैथोलिक यूनिवर्सिटी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह वहां की बहुत बड़ी यूनिवर्सिटी है और सरकारी अनुदान पर चलती है। देखिए इसकी वेबसाइट पर हिन्दी ब्लॉग टिप्स कहां और कैसे मौजूद है



अब यह मत पूछिए कि यह ब्लॉग वहां तक कैसे पहुंचा और पूरा का पूरा फ्रेम वहां कैसे दिखने लगा। इस सवाल को पूछने से आपको इसलिए रोक रहा हूं कि इसका जवाब तो मुझे भी नहीं पता। खैर हमें तो आम खाने से मतलब, पेड़ क्यों गिने। आप बधाई दे ही दो।

इतने से दिल नहीं भरा तो एक खुशख़बर और झेलिए। हिन्दी ब्लॉग टिप्स से आपका यह साथी भले ही एक धेला नहीं कमा रहा हो, लेकिन कोई तो है, जिसकी जेबें भर रही हैं। बताऊं कौन- यह देख लीजिए। लिखा तो यह है कि यह अंग्रेजी से रोमानियाई अनुवाद है, लेकिन मुझे तो गूगल विज्ञापनों के बीच विशुद्ध हिन्दी ही दिख रही है। पता नहीं यह वेबसाइट दुनिया भर के ब्लॉगों के अनुवाद के नाम पर कितनी चांदी कूट रही होगी।

अब आप सोच रहे होंगे कि ये करतूतें मुझे कैसे पता चलीं। साहब, जागरुक रहना पड़ता है। तो आप भी जागरुक हो जाइए और कॉपीस्केप नामक इस वेबसाइट पर जाइए। यहां अपनी ब्लॉग का पता भरिए और देख लीजिए कि आपके ब्लॉग से चुराई हुई सामग्री इंटरनेट पर कहां-कहां मौजूद है। वैसे मेरे जैसे चिट्ठाकारों की सामग्री तो कोई चुरा कर भी क्या करेगा :)




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

67 comments:

  1. आपको मै बधाई देता हूँ, लेकिन क्या किसी तरह का कॉपीराइट एक्ट के अधिकार में यह मामला नहीं आता. यह तो सरासर चोरी है.और खेद की बात है.

    "हिन्दीकुंज"

    ReplyDelete
  2. आप को ढेर सारी बधाईयाँ

    ReplyDelete
  3. बधाई! ये आस्ट्रेलियाई हिंदुस्तानियों की कदर जानते हों या न जानते हों, लगता है हिंदी की कदर जरूर जानते हैं!

    ReplyDelete
  4. ढेर सारी बधाईयाँ.

    ReplyDelete
  5. बहुत बधाई आप को, जरुर किसी अपने भाई ने ही किय होगा,

    ReplyDelete
  6. हमने भी लगाया हुआ है देखते है जाके कही हमारी सामग्री तो चोरी नही हो गई।

    ReplyDelete
  7. गुरुदेव ...इस ब्लॉग जगत में जो आपसे संभव है वो किसी से भी नहीं..बताइये इन सबके बावजूद ऑस्ट्रेलिया में भारतीयों के साथ ये सब हो रहा है..बहुत बहुत बधाई..छा गए बालम....

    ReplyDelete
  8. बधाई स्वीकार करें।
    वे लोग कितने खुशकिस्मत होते होंगे जिनका माल चोरी होता है, और उन्हें एक पोस्ट लिखने का मसाला भी मिल जाता है।
    काश हमारी किस्मत भी ऐसी होती। हम तो इस लायक कभी हुए ही नहीं कि कोई हमारी पोस्ट चोरी करे।

    ReplyDelete
  9. एक पोस्ट इस बात पर कि अपना माल चोरी योग्य कैसे बनायें! :-)

    ReplyDelete
  10. badhai ji badhai ji badhai ji

    jai ho ,wasie aap hamare asacche technical guru ho ji


    vijay

    ReplyDelete
  11. बहुत-बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  12. समझ नहीं आता कि बधाई दूँ.. या चोरी पर संवेदना व्यक्त करुं..

    ReplyDelete
  13. Bilkul Badhai.Chori karne valon se jyada auron ki kabiliyat ka andaja bhala kise hota hai! Aisi ek sthiti se main bhi gujar chuka hun.

    ReplyDelete
  14. आप को ढेर सारी बधाईयाँ

    ReplyDelete
  15. आशीष जी आस्ट्रेलिया के विश्व विद्यालय भारत व भारत के लोगों के बारे काफी जानकारियां जुटाते है ऐसा ही एक शोध किया है क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी आस्ट्रेलिया ने जिन्होंने अपनी वेबसाइट में एक अलग सेक्शन दे रखा "इंडियन प्रिंसली स्टेट " जिसमे भारत के सभी पूर्व राजाओं ,जागीरदारों का संक्षिप्त इतिहास के साथ पूरी वंशावलियां दे रखी है | इस वेबसाइट का लिंक है http://www.uq.net.au/~zzhsoszy/ips/ और हाँ इस आस्ट्रेलियन वेबसाइट पर आप मेरा फैमली ट्री (वंशावली) भी इस लिंक http://www.uq.net.au/~zzhsoszy/ips/k/khood.html पर देख सकते है |

    ReplyDelete
  16. ढेरों बधाईयां जी........

    ReplyDelete
  17. आशीष जी बधाई के पात्र आप ही नहीं हम सब हैं । इस सफलता के अवसर पर सभी हिन्दी चिठ्ठाकारों मेरी ओर से बधाई ।

    ReplyDelete
  18. बढ़िया आशीष जी..... बधाई संभालें...

    ReplyDelete
  19. इसे चोर माने या क्या???
    जो भी हो कुछ सुखद तो कुछ दुखद लगा.

    ReplyDelete
  20. बहुत बहुत बधाई हो आशीष भाई। हमारे लिए यह प्रसन्‍नता और गर्व की बात है।

    ReplyDelete
  21. badhaai ji badhaai

    abhinandan !

    ReplyDelete
  22. सागर जी आपने सही कहा .. हमें तो एक पोस्ट लिखने का बहाना मिल गया है कॉपी स्केप पर जाते ही एक चोरी पकड़ी गई और उस पर लिख डाली एक पोस्ट ज्ञान दर्पण .कॉम पर | http://www.gyandarpan.com/2009/06/blog-post_27.html

    ReplyDelete
  23. सबसे पहले आपको निरंतर किसी न किसी प्रकार की सफलता मिलते जाने के लिए बहुत बहुत बधाई .. कापीस्‍केप पर हमने कुछ दिन पहले चेक किया था .. कुछ गडबड नहीं मिला था .. फिर चेक कर लेती हूं।

    ReplyDelete
  24. ढेर सारी बधाईयाँ.

    ReplyDelete
  25. एक पसेरी बधाई हमारी तरफ से भी
    खुद खाइए बच्चो को खिलाइए :)
    वीनस केसरी

    ReplyDelete
  26. is mahatavpoorn Jaankari ke liye shukriya!

    ReplyDelete
  27. hello... hapi blogging... have a nice day! just visiting here....

    ReplyDelete
  28. बधाई तो ले ही लो!!

    ReplyDelete
  29. बधाई! बधाई!! बधाई!!!

    ReplyDelete
  30. चोरी होने की जितनी बधाइयाँ आप पा गये - शायद ही किसी को मिले । ज्ञान जी की बात पर ख्याल करें और चोरी कैसे हो हमारे कण्टेण्ट की यह भी बताने के लिये एक उम्दा पोस्ट लिखें ।
    धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  31. बहुत बहुत बधाई, ये जानकर बहुत खुशी हुई की आपको और आपकी साईट को हिन्दुस्तान के बाहर इतनी इज़्ज़त मिल रही है।


    आज एक हफ़्ता पुरा हो गया आशीष जी, मुझे आपका कोई मेल नही मिला अब तक

    ReplyDelete
  32. आशीष जी..बधाई दूँ या संवेदना व्यक्त करूँ...
    भुवन वेणु
    लूज़ शंटिंग

    ReplyDelete
  33. बधाई,

    कृपया इसे चोरी का दर्जा न दे कर सीना जोरी न करे, अब पेपर में आपकी पोस्‍ट बिना पूछे छाप दे रहे है ये चोरी नही है ? पर सब खुश है शहर में सबको पता चल रहा है बाबू साहब पेपर में आ रहे है।

    ReplyDelete
  34. आशीष बनाम एक हिन्दुस्तानी प्रतिभा का सम्मान।
    बहुत बहुत बधाई।

    ReplyDelete
  35. aashish
    when i open the link given by you it opens the blog tips page on ACU , if you scroll down the page , most of your post can be seen , after the post on meebo there is a post on ACU , have you written any post on ACU ?? if yes then may be that is why this site is linked there .
    i am not sure but since i could see ACU in oneo f your psot there i was just curious to work on the possibilities

    ReplyDelete
  36. गुरू जी

    आपको बधाई, सहानुभूति और शुभकामनाएं एक साथ देता हूँ !

    मेरी छठी इन्द्रीय कहती है
    गुरू जी बस ... अब पैसा बरसने ही वाला है !

    ReplyDelete
  37. आशीष जी,
    बहुत बधाई,
    मुझे लगता है, वे लोग RSS फ़ीड को अपनी वेबसाइट पर इस्तेमाल कर रहे होंगे, तभी बिल्कुल आप जैसी पोस्ट वहां भी नज़र आ रही है

    मुझे लगता है, अगर आप RSS feed को disable कर दें तो इस तरह की चोरी पर काफी रोक लगाई जा सकती है !!

    आपका क्या कहना है, जवाब ई-मेल में दीजियेगा

    yogesh249@gmail.com

    http://tanhaaiyan.blogspot.com

    ReplyDelete
  38. meri ye tippani is just more than just a guess.
    I saw a URL
    http://tips-hindi.blogspot.com/feeds/posts/default

    at the top of http://ro.mloovi.com/h/d8aa5b9e6462a2537aa8e045cbd51243

    it seems, to use the feeds for this.

    Just check and revert, if i m ryt or not.

    ReplyDelete
  39. http://ro.mloovi.com/h/d8aa5b9e6462a2537aa8e045cbd51243
    aashis i also saw this yesterday
    Rachna

    ReplyDelete
  40. बहुत बधाई आप को...

    ReplyDelete
  41. आशीश जी बहुत बहुत बधाई आप पूरी दुनिया पर एक दिन इसी तरहअपना परचम फहरायें यही दुआ है आज मेरी 100 वीं पोस्ट पर भी आपका नाम है एक बार फिर से बधाइ आभार्

    ReplyDelete
  42. आशीशजी कापीस्पेस पर मेरी 8 चोरी दिखा रहा है और जो नाम दिख रह है उस पर मुझे वो लाईन नहिन मिलि कैसे देखूँ?

    ReplyDelete
  43. भाई जी मेरे ब्लॉग की पोस्ट 'इत्तेफाक एक प्रेम कहानी' भी आस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर है.. उन्होंने मुझे भी नहीं बख्शा ...ये रहा लिंक
    http://copyscape.com/view.php?o=51300&u=http%3A%2F%2Fmy.acu.edu.au%2Fapps%2Fstaff_dir%2Fdepartment_list2%3Fsq_content_src%3D%252BdXJsPWh0dHAlM0ElMkYlMkZtZXJhYXBuYWphaGFhbi5ibG9nc3BvdC5jb20lMkYyMDA5JTJGMDYlMkZibG9nLXBvc3RfMTYuaHRtbCZhbGw9MQ%253D%253D&t=1246203697&s=http%3A%2F%2Fmeraapnajahaan.blogspot.com%2F&w=21&c=&i=1&r=4

    ReplyDelete
  44. आशीष जी बधाई ले ले कर तो आप थक गये होंगे । इस लिये इस थकान को बढ़ाये बगैर सीधे सीधे मिठाई की बातों पर आ जाते है । वैसे आपने जो लिंक दिया है कापीस्‍केप का उससे मेरे जैसे बहुत से ब्लोगरो की बत्ती जल गयी है । इसके लिये आप को हिन्दी की शान कह सकते है ।

    ReplyDelete
  45. बधाई हो भाईजान। छा गए ऑस्टे्रलिया तक। आज लंच पर मिलो, तो इस बधाई की मिठाई जरूर खिला देना। भूलना मत। फिर से बधाई।

    ReplyDelete
  46. ५० वीं टिप्पणी हमारी स्वीकार करिये । बधाई !

    ReplyDelete
  47. मेरी ओर से भी ढेर सारी बधाई स्वीकार करे।

    ReplyDelete
  48. और ब्लागरों की पोस्ट चोरी होती हैं..आप की तो पूरी की पूरी साईट ही कॉपी पेस्ट हो गयी!वह भी अंग्रेजी वेब साईट पर !
    ब्लॉग जगत में आप ने सब से पहले , यह सब से बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली!बधाईयाँ!
    वैसे आप को कितना दुःख हुआ होगा समझ सकती हूँ...यहाँ दो पंक्तियाँ भी कोई चोरी करे तो दिल टूट जाता है..आप का तो सारा चिटठा ही!
    मेरी हार्दिक संवेदनाएं !

    ReplyDelete
  49. Ye to fakr ki baat hai...
    bahut bahut badhai apko...

    ReplyDelete
  50. मेरा बधाईयों का ट्रक पहुंच जाए, तो खबर करिएगा।
    -Zakir Ali ‘Rajnish’
    { Secretary-TSALIIM & SBAI }

    ReplyDelete
  51. very good, vakai bahut achchha lika hai

    ReplyDelete
  52. अजी पहले तो बधाई,
    अब आगे, हमें तो कोई नहीं चुरा रहा. चुराएगा भी कौन? ये नाम के बाद जाट किसलिए लिखा हुआ है....

    ReplyDelete
  53. गुरू जी ,
    आपके ये सफलता ले आपला गाड़ा-गाड़ा बधाई.

    आपले सीख के महुं हा अपन ब्लाग बनायें हों तनिक देखव...
    http://subhash-gajendra.blogspot.com

    सुभाष गजेन्द्र
    अरजुन्दा (दुर्ग) छत्तीसगढ़

    ReplyDelete
  54. कॉपीस्केप नामक इस वेबसाइट पर जाकर तो कुछ पता ही नही लगता, कृपया डिटेल मे बतायें.

    रामराम.

    ReplyDelete
  55. फ़िर कापी राईट का क्या मतलब हुआ?

    ReplyDelete
  56. mandrake ki hindi comics

    @ sim786.blogspot.com

    ReplyDelete
  57. bahut bahut badhai.....

    sath hi sath bahut bahut dhanyavaad..........

    is jaankari k liye

    ReplyDelete
  58. आशीष जी, क्या मैं अपने ब्लॉग पर अपने पीसी से ऑडियो अपलोड कर सकता हूँ ?? गेजेट मैं कोई ऑडियो अपलोड करने का आप्शन नहीं है!! कृपया इस गरीब की मदद करें | धन्यवाद !!

    ReplyDelete
  59. congrats!!! ashish ji but we wont party...
    we proud of you... & TIPS-HINDI
    meet

    ReplyDelete
  60. बहुत बहुत बधाई, ये जानकर बहुत खुशी हुई की आपको और आपकी साईट को हिन्दुस्तान के बाहर इतनी इज़्ज़त मिल रही है

    ReplyDelete
  61. आशीष जी,
    थोड़े दुःख पर अधिक खुशी का समाचार है। यह खुशी आंतरिक खुशी है। आपको बहुत बधाई हो।

    ReplyDelete