Saturday, August 29

पिछली 25 पोस्ट तक एक साथ दिखाने वाला विजेट


क्या आप ब्लॉगर पर महीने के हिसाब से पोस्ट दिखाने वाले विजेट से परेशान हैं। तब तो यह आकर्षक विजेट आपके काम का हो सकता है। इसकी मदद से आप अपनी पिछली प्रविष्ठियां साइडबार में दिखा सकते हैं। दिखाए जाने वाली प्रविष्ठियों की संख्या का चुनाव अपने हिसाब से कर सकते हैं। यानी 1 से लेकर 25 तक कुछ भी। थंबनेल दिखा सकते हैं और उनके साथ कमेंट की संख्या भी दिखा सकते हैं। यानी सब कुछ कस्टमाइज करना चुटकियों का खेल है।

पहले इस विजेट का डेमो इस टेस्ट ब्लॉग की साइडबार में देखिए-

अब जानते हैं इसे लगाने का तरीका-

सबसे पहले ब्लॉग के लेआउट पर जाइए और एड ए विजेट पर क्लिक कीजिए।

इस तस्वीर में दिखाए गए Featured टैब पर क्लिक कीजिए।



यहां आपको ऊपर से छठे स्थान पर Recent Posts विजेट दिख रहा होगा। इसके सामने + पर क्लिक कीजिए।



यहां खुलने वाली विंडो में अपने ब्लॉग का पता भरिए व अन्य सैटिंग अपनी मर्जी के अनुसार कीजिए।


सैव करते ही यह आकर्षक विजेट आपके ब्लॉग पर होगा।

यहां आप ताज़ा टिप्पणियां, ट्विटर अपडेट जैसे विजेट भी पा सकते हैं।

पिछले महीने से ब्लॉगर ने विजेट निर्माताओं को अपना विजेट बनाकर ब्लॉगर के मंच पर लाने की सुविधा दी है, जिससे उनका फायदा सभी ब्लॉगर साथियों को मिल सके। इसी के तहत बाहरी वेबसाइटों ने ये विजेट तैयार किए हैं।

तो आजमाइए इस विजेट को.. हैपी ब्लॉगिंग.




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Wednesday, August 26

ब्लॉगर पर नई सुविधा- लेबल क्लाउड (label cloud)

ब्लॉगर सेवा के दस साल पूरे होने के साथ ही चिट्ठाकारों को नई सौगातें मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है। ब्लॉगर संचालित चिट्ठों पर लेबल क्लाउड की बहुप्रतीक्षित मांग अब पूरी हो गई है। इससे पहले ब्लॉगर पर लेबल केवल टेबल के रूप में प्रदर्शित किए जाने की सुविधा थी, लेकिन अब इसे क्लाउड के रूप में भी आसानी से लगाया जा सकता है। ब्लॉगर ने गैजेट के रूप में इस सुविधा का विस्तार किया है।

वर्डप्रेस व अन्य सेवाएं लेबल क्लाउड की सुविधा पहले से दे रही हैं। ब्लॉगर पर कारस्तानी अब तक केवल कोड में हेरफेर से संभव थी, लेकिन अब इसे एक सुविधा के रूप में जोड़ दिया गया है।


अगर आप भी अपने चिट्ठे पर लेबल क्लाउड के रूप में दिखाना चाहते हैं तो ब्लॉग का डैशबोर्ड खोलिए। लेआउट फीचर में जाइए। साइडबार में एड ए गैजेट पर क्लिक कीजिए और लेबल्स विकल्प को चुनिए। वहां आपको ऐसी विंडो दिखेगी-


जैसे ही आप लिस्ट के स्थान पर क्लाउड विकल्प चुनकर सैटिंग्स सेव करेंगे आपको लेबल क्लाउड के रूप में दिखने लगेंगे।

साथ ही यहां आप दिखाए जाने वाले लेबल्स की संख्या पर भी आसानी से नियंत्रण रख सकते हैं।

थैंक्स ब्लॉगर.. हैपी ब्लॉगिंग :-)




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, August 22

गणेश चतुर्थी पर खास विजेट आपके ब्लॉग पर

कर्सर के साथ मूविंग गणेशजी अपने ब्लॉग पर लगाने के लिए नीचे बटन पर क्लिक कीजिए-
रविवार (23 अगस्त, 2009) को गणेश चतुर्थी के अवसर पर हिन्दी ब्लॉग टिप्स आपके लिए यह खास विजेट लाया है। इस विजेट को लगाते ही आपके ब्लॉग पर कर्सर के साथ गणेशजी की तस्वीर नजर आने लगेगी (केवल 22 और 23 अगस्त तक प्रभावी)। अगर आप स्वतंत्रता दिवस पर मूविंग तिरंगे वाला विजेट लगा चुके हैं तो आपको यह विजेट फिर से लगाने की कोई जरूरत नहीं। आपके ब्लॉग पर आपको गणेशजी स्वतः ही दिख रहे होंगे।

अगर आप इसे अपने ब्लॉग पर लगाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कीजिए और निर्देशों का अनुसरण करते ही यह आपके ब्लॉगर ब्लॉग पर होगा।


अगर आप किसी अन्य ब्लॉग या वेबसाइट पर इसे लगाना चाहते हैं तो यह कोड इस्तेमाल कीजिए-

<script language="JavaScript" src="http://ashishkk.110mb.com/mousecursor.js"></script>


विजेट की विशेषताएं-

  • यह विजेट केवल किसी खास त्योहार या उत्सव के आधार पर ही तैयार नहीं है। अगर आप इस विजेट को अपने ब्लॉग पर लगाते हैं तो आपको हर खास दिन (जैसे स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस, होली, रक्षाबंधन, जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी, गांधी जयंती, नवरात्रा स्थापना, दशहरा, दिवाली, गुरु नानक जयंती, क्रिसमस आदि) माउस कर्सर के साथ उस दिन को यादगार बनाने वाली छोटी तस्वीर दिखेगी।

  • सबसे खास बात यह कि आपको यह विजेट केवल एक बार अपने ब्लॉग पर लगाना है। उसके बाद आपको इसमें कुछ भी फ़ेरबदल करने की ज़रूरत नहीं। यह अपने आप दिन की खासियत के हिसाब से तस्वीर आपके सामने पेश करेगा।


  • जब कुछ खास नहीं होगा तो आपको कर्सर के साथ कोई तस्वीर नहीं दिखेगी। खास दिन होने पर आपके कर्सर के साथ नई तस्वीर स्वतः प्रकट हो जाएगी।


  • अगर आपको किसी खास दिन कोई तस्वीर पसंद नहीं आती तो आप इस विजेट को आसानी से अपने ब्लॉग से हटा सकते हैं।


  • इस विजेट में बहुत ही छोटी स्क्रिप्ट काम में ली गई है, जो पलक झपकते ही लोड होती है। इसलिए यह आपके ब्लॉग के खुलने की स्पीड पर न के बराबर असर डालता है।


गणेश चतुर्थी की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। हैपी ब्लॉगिंग :-)







क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, August 15

469 से मिन्नतें, टिप्पणियां केवल 15.. ब्लॉगर साथियो बहुत नाइंसाफ़ी है..

अगर आपने ब्लॉग पर अपना ई-मेल पता सार्वजनिक किया है, तो आपके पास भी अनजान लोगों के इस तरह के मेल आते होंगे कि हमारी पोस्ट पढ़िए, उस पर कमेंट कीजिए। जब आप सेंडर का नाम देखते हैं तो पता चलता है कि आप उसे कभी नहीं जानते, फिर भी ऐसे लोगों के मेल आपको लगातार मिलते रहते हैं।

कल मुझे एक मेल मिला, जिसमें एक सज्जन (सदाशयता के नाते नाम नहीं प्रकाशित किया जा रहा है) ने अपनी पोस्ट पढ़ने की मिन्नत के तहत 469 लोगों को मेल किया है (अगर आपका मेल पता सार्वजनिक है तो मुझे उम्मीद है कि वह यहां जरूर होगा और आपको भी यह मेल मिला होगा)। मुझे अचंभा इस बात पर हो रहा है कि इन सज्जन को इस लिस्ट को बनाने में कितनी मेहनत हुई होगी, लेकिन इस मेल के 18 घंटे बीत जाने के बाद उनकी पोस्ट पर केवल 15 टिप्पणियां ही मौजूद हैं।

आप खुद देखिए यह लिस्ट और मेल (सदाशयता के नाते नाम नहीं प्रकाशित किया जा रहा है और साथियों के ई-मेल पते काटे गए हैं ताकि इनका गलत इस्तेमाल नहीं हो)




अब ऐसे साथी मेरी इस अपील को पढ़ लीजिए-

कृपया सामूहिक मेल में हमारा ई-मेल पता रवाना मत कीजिए, क्योंकि इस तरह यह गलत लोगों (स्पेमर) के हाथ पड़ जाता है और फिर हमारे पास अनचाही मेल का सिलसिला शुरू हो जाता है।

दूसरी बात यह कि हम अक्सर इस तरह के मेल संदेशों को स्पेम कर देते हैं, यानी आपसे मिलने वाली सभी ई-मेल हमारे स्पेम बॉक्स में जाती हैं और उन्हें हम नहीं पढ़ते। अब सोचिए कि अगर आपने कभी कोई जरूरी मेल भी भेजी तो वो भी हम नहीं पढ़ पाएंगे। यानी आपका-हमारा संपर्क हमेशा के लिए खत्म।

सभी चिट्ठाकार या पाठक अच्छी तरह से जानते हैं कि उन्हें क्या पढ़ना है और क्या नहीं। ऐसे में इस तरह की मेल आपकी प्रतिष्ठा को धूमिल भी कर सकती है।

चलते-चलते एक और सज्जन की कारगुजारी देखिए-




इन सज्जन ने अपनी ई-मेल सब्सक्रिप्शन लिस्ट की संख्या बढ़ाने के लिए जबरन मेरा ई-मेल पता भरकर मुझे आमंत्रण भेजा, जिससे मैं सीधे ही क्लिक कर इनका सब्सक्राइबर बनूं। मैंने इस मेल को भी डिलीट कर दिया है।

मैंने यह पोस्ट खरे शब्दों में लिखी है, कृपया कोई साथी इसे अन्यथा न ले। आपके इस बारे में क्या विचार हैं मैं जानने को उत्सुक हूं।

स्वाधीनता दिवस की शुभकामनाएं.. हैपी ब्लॉगिंग




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Tuesday, August 11

माउस कर्सर के साथ मूविंग इमेज

कर्सर के साथ मूविंग इमेज के लिए नीचे बटन पर क्लिक कीजिए और विजेट होगा आपके ब्लॉग पर
भारतीय संस्कृति की पहचान है यहां के उत्सव और त्योहार। अब आप अपने ब्लॉग को हर आगामी उत्सव और त्योहार के रंग में आसानी से रंग सकते हैं। हिन्दी ब्लॉग टिप्स आपके लिए यह खास विजेट लाया है, जिसे एक क्लिक पर अपने ब्लॉग पर संस्थापित किया जा सकता है। यह विजेट लगाने के बाद कोई खास अवसर आते ही अपने आप आपको माउस कर्सर के साथ एक छोटी सी आकर्षक तस्वीर नजर आएगी और यह कर्सर के साथ मूव करती रहेगी। खास अवसर के बीत जाने के बाद यह अपने आप गायब हो जाएगी और आपको सैटिंग्स में कुछ भी बदलाव नहीं करना पड़ेगा। अगला उत्सव आते ही आपको उससे जुड़ी इमेज फिर से स्वतः ही नजर आने लगेगी।

इस तरीके से आप अभी तक स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा और गणेश चतुर्थी पर गणेशजी का लोगो अपने कर्सर के साथ देख चुके हैं। आगामी त्योहारों और उत्सवों पर भी इसी तरह खास तस्वीर आपके ब्लॉग पर दिखाई देती रहेगी।

अगर आप इसे अपने ब्लॉग पर लगाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कीजिए और निर्देशों का अनुसरण करते ही यह आपके ब्लॉगर ब्लॉग पर होगा।


अगर आप किसी अन्य ब्लॉग या वेबसाइट पर इसे लगाना चाहते हैं तो यह कोड इस्तेमाल कीजिए-

<script language="JavaScript" src="http://ashishkk.110mb.com/mousecursor.js"></script>


विजेट की विशेषताएं-

  • यह विजेट केवल किसी खास त्योहार या उत्सव के आधार पर ही तैयार नहीं है। अगर आप इस विजेट को अपने ब्लॉग पर लगाते हैं तो आपको हर खास दिन (जैसे स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस, होली, रक्षाबंधन, जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी, गांधी जयंती, नवरात्रा स्थापना, दशहरा, दिवाली, गुरु नानक जयंती, क्रिसमस आदि) माउस कर्सर के साथ उस दिन को यादगार बनाने वाली छोटी तस्वीर दिखेगी।

  • सबसे खास बात यह कि आपको यह विजेट केवल एक बार अपने ब्लॉग पर लगाना है। उसके बाद आपको इसमें कुछ भी फ़ेरबदल करने की ज़रूरत नहीं। यह अपने आप दिन की खासियत के हिसाब से तस्वीर आपके सामने पेश करेगा।


  • जब कुछ खास नहीं होगा तो आपको कर्सर के साथ कोई तस्वीर नहीं दिखेगी। खास दिन होने पर आपके कर्सर के साथ नई तस्वीर स्वतः प्रकट हो जाएगी।


  • अगर आपको किसी खास दिन कोई तस्वीर पसंद नहीं आती तो आप इस विजेट को आसानी से अपने ब्लॉग से हटा सकते हैं।


  • इस विजेट में बहुत ही छोटी स्क्रिप्ट काम में ली गई है, जो पलक झपकते ही लोड होती है। इसलिए यह आपके ब्लॉग के खुलने की स्पीड पर न के बराबर असर डालता है।


तो दीजिए अपने ब्लॉग को नया अंदाज इस खास विजेट के साथ। हैपी ब्लॉगिंग :-)





क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Thursday, August 6

ऑफलाइन हिन्दी लिखने के औज़ार (कमेंट बॉक्स में सीधे ही हिन्दी टाइप कैसे करें)

कई दिनों से कुछ साथी पूछ रहे थे कि वे यूनीकोड हिन्दी में ऑफलाइन टाइप कैसे करें। यानी नेट कनेक्शन काम नहीं करने की अवस्था में हिन्दी में कैसे लिखा जाए। या कमेंट करते वक्त सीधे ही हिन्दी में टाइप कैसे करें। प्रकाश गोविन्द जी ने इस सवाल के साथ अनुरोध किया कि इस पर एक पोस्ट ही लिख दी जाए। पूजा उपाध्याय जी से विशेष माफी चाहूंगा कि उनकी इस जिज्ञासा पर कई महीनों बाद पोस्ट लिख पा रहा हूं।

वैसे तो ऑफलाइन हिन्दी लिखने के लिए कई साधन इंटरनेट पर मौजूद हैं, लेकिन मेरी पसंद के दो सर्वश्रेष्ठ साधन हैं-

बारहा

इंडिक आईएमई


आप इन्हें डाउनलोड कीजिए (नाम पर क्लिक कीजिए) और ज्यादा जानकारी लिंक 1 और लिंक 2 से पा सकते हैं।

इस विषय पर विस्तार से इसलिए नहीं लिख रहा हूं क्योंकि पहले ही गुणीजन इन पर काफी कुछ लिख चुके हैं और इनकी तुलनात्मक समीक्षा भी कर चुके हैं।

बारहा, हिन्दीराइटर तथा इंडिक IME की तुलनात्मक समीक्षा

बाराहा नही भई वाह! वाह! बोलिये

हैक - बरहा, कैफे हिन्दी आदि द्वारा एम एस‌ वर्ड में हिन्दी टाइप करना

बाराहा का नया संस्करण

आप इन्हें आजमाइए और अपने अनुभव बताइए। परेशानी की स्थिति में टिप्पणी के जरिए बेहिचक संपर्क कीजिए। हैपी ब्लॉगिंग :)




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, August 1

हिन्दी, पंजाबी, गुजराती, मराठी, नेपाली, उर्दू मे लिखना इतना आसान

पिछले कुछ समय से पंजाबी, गुजराती और मराठी ब्लॉगर साथी एक ऐसा विजेट तैयार करने की मांग कर रहे थे, जो ब्लॉग की साइडबार में अपनी भाषा में लिखने की सुविधा दे। गूगल की ट्रांसलिटरेटर सुविधा ने इसे काफी हद तक आसान तो कर दिया था, लेकिन समस्या यह थी कि हिन्दी और अपनी प्रादेशिक भाषा के लिए अलग-अलग बक्से लगाने पड़ते थे। हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने ऐसे विजेट का निर्माण किया है, जो एक ही बक्से में 11 भारतीय भाषाओं में लिखने की सुविधा प्रदान करता है। ये भाषाएं हैं- हिन्दी, पंजाबी, गुजराती, मराठी, नेपाली, बांग्ला, कन्नड़, तेलुगू, तमिल, मलयालम और उर्दू।

विजेट का लाइव डेमो इस टेस्ट ब्लॉग की साइडबार में देखें।


अगर आप इस विजेट को अपने ब्लॉग की साइडबार में जगह देना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें-



नोटः हिन्दी ब्लॉगर साथियों के लिए भी यह अब तक उपलब्ध सबसे अच्छा विजेट है। इसलिए मैं सलाह दूंगा कि अगर उन्होंने हिन्दी लिखने के लिए कोई दूसरा विजेट लगा रखा है तो उसे हटाकर यह लगा लें।

क्यों है यह सबसे अच्छा विजेट ??

1. पिछले विजेट की कमी यह है कि उसे लगाने के बाद ब्लॉग का पेज ओपन होते ही पेज सीधा वहां पहुंच जाता है, जहां वह विजेट लगा है। मिसाल के तौर काजल कुमार जी का ब्लॉग देखिए। पेज खुलते ही बॉटम में पहुंच जाता है पाठक, जो थोड़ा अटपटा लगता है। इस विजेट मे यह कमी सुधार दी गई है।

2. यह विजेट कार्यप्रणाली में भी पिछले विजेट से बेहतर है।

3. इसका रंग संयोजन भी पिछले विजेट के मुकाबले बेहतर है

4. आकार पिछले विजेट जितना ही है, लेकिन इसमें भाषा के विकल्प अधिक है।

तो इस विजेट को इस्तेमाल कीजिए और अपनी राय बताइए.. तब तक के लिए हैपी ब्लॉगिंग :-)





क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!
हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!